विद्युत ज्वाइंट ढूंढने के लिए खुदाई कर रहे मजदूरों पर ढही मिट्टी, दबने से दो की मौत

बस्सी थाना क्षेत्र में बैनाड़ा स्थित कल्पना नगर में विद्युत विभाग के जीएसएस के पास गुरुवार शाम को केबिल में ज्वाइंट लगाने के लिए खोदी गई करीब 10 फीट गहरी नाली से निकाली गई मिट्टी के ढहने से 2 मजदूरों की दबने से मौत हो गई।

By: kamlesh

Published: 24 Dec 2020, 09:37 PM IST

जयपुर। बस्सी थाना क्षेत्र में बैनाड़ा स्थित कल्पना नगर में विद्युत विभाग के जीएसएस के पास गुरुवार शाम को केबिल में ज्वाइंट लगाने के लिए खोदी गई करीब 10 फीट गहरी नाली से निकाली गई मिट्टी के ढहने से 2 मजदूरों की दबने से मौत हो गई। मजदूर पास ही विद्युत के टावर में केबिल लगाने के लिए नाली खोद रहे थे। पुलिस ने बताया कि जीएसएस के पास एक पोल में कनेक्शन देने के लिए ठेकेदार के 4 कर्मचारी केबिल ढूंढने के लिए करीब 10 फीट गहरी नाली खोद रहे थे। तभी अचानक नाली से निकाली गई मिट्टी के ढहने से उसमें बूंदी निवासी लखन (28) व लोहडीराम (35) निवासी चितरौली लालसोट मिट्टी के नीचे दब गए। अचानक मिट्टी ढहने से नाली के ऊपर खड़े मुहाना, गुढ़ाचंद्रजी, नादौती जिला करौली निवासी रेक सिंह गुर्जर व धनसिंह गुर्जर घबरा गए और चिल्लाने लगे।

आस-पास के लोगों ने की मदद
रेकसिंह व धनसिंह के चिल्लने की आवाज सुनकर आसपास के अनेकों लोग दौड़कर आए। कुछ लोगों ने फावड़े से मिट्टी निकालना शुरू किया तो कुछ लोगों ने पास ही जेसीबी से कार्य कर रहे लोगों के पास दौड़कर मदद की गुहार की। आनन-फानन में 2 जेसीबी से मिट्टी हटाने का काम शुरू हो गया।

काश पानी की पाईप लाईन नहीं टूटती
जेसीबी से खुदाई के दौरान एक मजदूर लखन का सिर दिखने के बाद जेसीबी रोककर फावड़े व हाथों से लोगों ने मिट्टी हटाना शुरू कर दिया। तब तक लखन की सांसे चल रही थी। इसी दौरान जैसे ही दूसरे मजदूर की तलाश के लिए कुछ दूरी पर जेसीबी खुदाई शुरू की तो पास ही जा रही बीसलपुर की पेयजल लाईन का पाईप जेसीबी से टूट गया। जिससे अचानक पानी के बहाव से एक बार फिर मिट्टी ढह गई। नाली में मजदूर को निकालने के लिए घुसे लोग दौड़कर बाहर आ गए।

लेकिन मजदूर लखन फिर मिट्टी के नीचे दब गया। बाद में टूटी पाईप लाईन को खोखावाला निवासी सत्यनारायण शर्मा व उसके एक साथी ने बोरी व प्लास्टिक के कट्टे से पानी को रोका और जेबीसी से दोबारा खुदाई शुरू हुई। लेकिन इस दौरान करीब एक घंटे की देरी हो गई। खुदाई के बाद जब लखन को निकाला गया तो उसकी मौत हो चुकी थी। वहां मौजूद सभी लोग यही कहते रहे काश पाईप लाईन नहीं टूटती तो लखन को बचाया जा सकता था।

दूसरे मजदूर की चल रही थी सांसे
जेसीबी से खुदाई में कुछ देर बाद दूसरे मजदूर लोहडीराम को जब निकाला तो उसकी सांसे चल रही थी। थानाधिकारी सोहनलाल स्वयं उसे लेकर सवाईमानसिंह अस्पताल जयपुर गए। लेकिन अस्पताल पहुंचते ही चिकित्सकों ने उसे भी मृत घोषित कर दिया।

ये रहे मौके पर मौजूद
एसीपी सुरेश सांखला, थानाधिकारी सोहनलाल, सब इंस्पेक्टर जनमेजाराम, ममता मीणा, एईएन विजय सिंह, जेइएन रामदेव सैनी, गिरदावर, पटवारी मौके पर मौजूद रहे।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned