यूजीसी ने विश्वविद्यालयों से कहा, विद्यार्थियों की समस्याओं का करें समाधान

एक महीने का दिया था समय, शिकायत प्रकोष्ठ गठित करने का आज है अंतिम दिन, शैक्षणिक कैलेण्डर और परीक्षा की तारीखों को लेकर आई शिकायतें

By: MOHIT SHARMA

Updated: 30 May 2020, 02:28 PM IST

जयपुर। यूजीसी ने देशभर के विश्वविद्यालयों से एक बार फिर कहा है कि कोरोना महामारी के इस काल में विद्यार्थियों की समस्याओं के समाधान के लिए एक शिकायत प्रकोष्ठ गठित किया जाए। यदि अभी तक विश्वविद्यालयों ने इसे नहीं बनाया है तो इसे 30 मई यनि आज शाम तक हर हाल में बना लें, जिससे विद्यार्थी इस पर अपनी समस्याएं बता सकें और विश्वविद्यालय उनका निवारण कर सकें।

यूजीसी ने विश्वविद्यालयों के शिकायत प्रकोष्ठ के लिए एक समय सीमा निर्धारित की थी। अब ठीक एक माह बाद यूजीसी ने फिर देशभर के सभी विश्वविद्यालयों को इसके लिए चेताया है और इसकी डेटलाइन तय की है, जिसके अनुसार आज शाम तक हर विश्वविद्यालय को स्टूडेंट्स की समस्याओं और परीक्षा की तारीखों और शैक्षणिक कैलेंडर से संबंधित समस्याओं के लिए एक सेल गठित करनी होगी।

यूजीसी ने इस संबंध में 29 अप्रेल को जारी गाइडलाइन्स को ध्यान में रखने के लिए कहा है। यूजीसी के अध्यक्ष प्रो.धीरेन्द्र पाल सिंह ने इस संबंध में एक नोटिस जारी किया है। इसके लिए यूजीसी ने हेल्पलाइन नंबर और मेल एड्रेस भी जारी किए हैं, जिन पर स्टूडेंटस ने अपनी समस्या बता सकते हैं।

यहां करा सकते हैं शिकायत दर्ज
यूजीसी की ओर से जारी किए गए टास्क-फोर्स के हेल्पलाइन नंबर हैं 011-23236374 पर या ईमेल आईडी [email protected] सम्पर्क किया जा सकता है। साथ ही, विद्यार्थी यूजीसी के पोर्टल पर बनाए गए पेज https:// www. ugc.ac.in/grievance/student_reg.aspx पर भी अपनी शिकायत या समस्या ऑनलाइन रजिस्टर करा सकते हैं।

ऐसी मिल रही शिकायतें
यूजीसी की ओर से जारी नोटिस में बताया है कि संबंधित हेल्पलाइन नंबर और मेल पर देशभर के विद्यार्थियों ने एकेडेमिक, परीक्षा, उनके दाखिले, फीस, फैकल्टी ने अपने वेतन आदि से जुड़ी कई शिकायतें की हैं। वहीं विद्यार्थियों ने भी सिलेबस, ऑनलाइन क्लासेस में आ रही तकनीकी समस्याओं, लाइव क्लास आदि की शिकायतें दर्ज कराई हैं।

COVID-19
MOHIT SHARMA Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned