जिला परिषद और पंचायत समिति के चुनाव में कांग्रेस का विरोध करेंगे बेरोजगार युवा

कम्प्यूटर शिक्षक भर्ती संविदा पर निकालने का विरोध

पांच राज्यों के चुनाव में भी किया जाएगा विरोध

By: Rakhi Hajela

Published: 20 Jun 2021, 08:27 PM IST



जयपुर, 20 जून
प्रदेश के आईटी योग्यताधारी बेरोजगार अभ्यर्थी कम्प्यूटर शिक्षकों की नियमित भर्ती किए जाने को लेकर मुख्यमंत्री से मांग करेंगे फिर भी उनकी सुनवाई नहीं हुई तो देश के पांच राज्यों में होने वाले चुनावों के साथ ही प्रदेश के12 जिलों के जिला परिषद और पंचायत समिति चुनावों में कांग्रेस का विरोध किया जाएगा। यह निर्णय रविवार को राजस्थान बेरोजगार एकीकृत महासंघ के प्रदेश कार्यालय मेंआईटी योग्यताधारी युवा बेरोजगार अभ्यार्थियों की कमेटी की बैठक में लिया गया। बीटेक डिग्री धारी दीपेश चौधरी ने कहा कि प्रदेश के युवा पिछले कई सालों से स्थाई भर्ती के इंतजार में तैयारी कर रहे थे लेकिन अचानक संविदा पर भर्ती निकालकर सरकार ने उनके भविष्य के साथ धोखा किया है जिसे सहन नहीं किया जाएगा और हम मरते दम तक संघर्ष करेंगे। वहीं बेरोगजार एकीकृत महासंघ के प्रदेशाध्यक्ष उपेन यादव ने कहा कि हम मुख्यमंत्री ने गुहार कर रहे हैं कि सविंदा पर भर्ती के फैसले को बदलते हुए कम्प्यूटर शिक्षकों की भर्ती नियमित तौर पर की जाए।
एसएफआई ने दी आंदोलन की चेतावनी
वहीं छात्र संगठन एसएफआई ने भी 10 हजार 453 पदों पर संविदा के आधार पर कम्प्यूटर शिक्षक नियुक्त किए जाने के सरकार के निर्णय का विरोध किया है। पूर्व छात्र संघ अध्यक्ष महेंद्र चौधरी ने कहा कि कम्प्यूटर शिक्षक भर्ती की मांग को लेकर कोविड काल में भी युवा बेरोजगार लगातार वर्चुअल प्रदर्शन कर रहे थे। इससे पूर्व राजधानी में भी प्रदर्शन किया था, अब सरकार ने संविदा पर नियुक्ति दिए जाने की घोषणा कर युवाओं को झूठा लॉलीपॉप दिया है। सरकार की यह घोषणा बेरोजगार युवाओं के खिलाफ है। यदि समय रहते सरकार ने कम्प्यूटर शिक्षा योग्यताधारी युवा बेरोजगारों की बात नहीं मानी तो युवा जयपुर कूंच करेंगे और विधानसभा का घेराव किया जाएगा।

Rakhi Hajela Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned