तीन वर्षीय और पंचवर्षीय लॉ पाठयक्रम के लिए सम्बद्धता देगा राजस्थान विश्वविद्यालय,मांगे आवेदन

कॉलेज में पाठयक्रम शुरू करने के लिए करना होगा आनलाइन आवेदन



जयपुर
राजस्थान विश्वविद्यालय विधि पाठयक्रम के लिए निजी विश्वविद्यालयों को सम्बद्धता देगा। इसके लिए विश्वविद्यालय प्रशासन ने आवेदन मांगे है। हालांकि विश्वविद्यालय पाठयक्रम के लिए ही सम्बद्धता देगा। जबकि महाविद्यालयों को लॉ कॉलेज की मान्यता बार कौंसिंल आफ इंडिया से लेनी होगी। विश्वविद्यालय के रजिस्ट्रार हरफूल सिंह के अनुसार जयपुर और दौसा जिले के ऐसे कॉलेज जो शैक्षणिक सत्र 2020.21 के लिए एलएलबी तीन वर्षीय और एलएलबी पंचवर्षीय पाठयक्रम का संचालन करना चाहते है वह सम्बद्धता के लिए विश्वविद्यालय के पोर्टल पर आनलाइन आवेदन कर सकेंगे। इस दौरान ऐसे महाविद्यालय जो पहले से एलएलबी पाठयक्रम संचालित कर रहे है वह सीटवृद्धि के लिए आवेदन कर सकते है।आवेदन के बाद और निर्धारित राशि जमा करवाने के बाद विश्वविद्यालय की ओर से बनाई गई टीम कॉलेज के निरीक्षण के लिए जाकर वहां के इंफ्रास्ट्रक्चर को जाचेगी और वह पर संसाधन होने पर सम्बद्धता देगी।
इन पाठयक्रमों के लिए मिलेगी सम्बद्धता
विश्वविद्यालय की ओर से ऐसे महाविद्यालय जहां एलएलबी कोर्स पहले से संचालित हो रहा है वह कॉलेज एलएलएम पाठयक्रम के लिए भी सम्बद्धता ले सकेंगे। एलएलएम पाठयक्रम संचालित करने के लिए भी मापदंड पूरे होने पर विश्वविद्यालय निजी महाविद्यालयों को सम्बद्धता देगा। वहीं ऐसे कॉलेज जिनके पास प्रोविजनल सम्बद्धता है वह भी नियमित सम्बद्धता के लिए आवेदन कर सकेंगे। विश्वविद्यालय ने महाविद्यालयों से नियमित सम्बद्धता के लिए भी आवेदन मांगे है। विश्वविद्यालय की वेबसाइट के माध्यम से कॉलेज संचालक एलएलबी तीन वर्षीय,पंचवर्षीय इंट्रीग्रेटेड एलएलबी और एलएलएम दो वर्षीय पाठयक्रम की सम्बद्धता के लिए आनलाइन आवेदन कर सकेंगे।

HIMANSHU SHARMA
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned