अब डॉक्टर टेलीमेडिसिन से कर रहे हैं इलाज

- कोरोना के प्रभाव के चलते ऑनलाइन परामर्श दे रहे डॉक्टर, मोबाइल पर भेज रहे दवाइयों की पर्ची

जयपुर. कोरोना वायरस के नियंत्रण के लिए राज्य और केंद्रीय सरकार एडवायजरी के चलते जहां हर व्यक्ति अपने आपको आइसोलेट करते हुए घरों से नहीं निकल पा रहे हैं। ऐसे में शहर के डॉक्टर भी टेलीमेडिसिन के जरिए मरीजों का इलाज कर रहे हैं। कोई वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से तो कोई फोन पर ही दवाइयां लिखवा रहे हैं। डॉक्टर घर बैठे निशुल्क डॉक्टरी सलाह भी दे रहे हैं।
----
वॉट्सऐप कॉल कर भेज रहे हैं दवा की पर्ची
शहर के कई निजी अस्पतालों के डॉक्टर वॉट्सऐप वीडियो कॉल के जरिए मरीजों को दवा की पर्ची उपलब्ध करवा रहे हैं। इसके लिए अस्पताल के नंबर पर मरीज को फोन करना होगा। ऑपरेटर को नाम, वॉट्सऐप नंबर, उम्र, मेडिकल स्पेशल्टी की जानकारी देनी होगी। अपॉइंटमेंट फिक्स होने के बाद डॉक्टर मरीज को वॉट्सऐप पर कॉल कर प्रिस्क्रिप्शन भेज रहे हैं।

इनकी होती है फ्री कंसल्टेंट-
- फिजिशियन
- गायनेक
- जनरल और गेस्ट्रो सर्जरी
- पिडियाट्रिक्स
- इएनटी
- कार्डियोलॉजी एंड कार्डिएक सर्जरी
- स्कीन
- न्यूरोलॉजी, न्यूरोसर्जरी
- कैंसर, कैंसरसर्जरी
- शिशु रोग
- स्त्री रोग
- मानसिक रोग
-दंत चिकित्सा
-----
कोरोना वायरस के चलते मरीजों से वीडियो कॉल पर सम्पर्क में हूं। मरीजों को वीडियो कॉल के जरिए ही चिकित्सकीय सलाह दे रही हूं। जरूरत के समय मोबाइल पर दवाओं की पर्ची भेज देती हूं।
- डॉ. भावना शर्मा, सीनियर प्रोफेसर, न्यूरोलॉजी विभाग, एसएमएस मेडिकल कॉलेज
मरीज कम से कम अस्पताल में आ रहे हैं। ऑनलाइन परामर्श ही दिया जा रहा है। साथ ही मरीज वीडियो के जरिए बीमारी की जानकारी दे रहे हैं। उसे देखकर उन्हें दवाइयों के बारे में बताया जा रहा है।
-डॉ. विशाल गुप्ता, एसोसिएट प्रोफेसर, एसएमएस हॉस्पिटल

Avinash Bakolia Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned