राजे और पूनियां ने सरकार पर साधा निशाना, राजे ने लिखा नौकरी के नाम पर दिया धोखा

पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे और भाजपा प्रदेशाध्यक्ष सतीश पूनियां ने ट्वीट के जरिए गहलोत सरकार निशाना साधा है। राजे ने जहां नौकरी के नाम पर धोखा देने का आरोप लगाया है तो पूनियां ने बिगड़ी कानून व्यवस्था को लेकर सरकार को घेरा है।

By: Umesh Sharma

Published: 03 Mar 2021, 08:53 PM IST

जयपुर।

पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे और भाजपा प्रदेशाध्यक्ष सतीश पूनियां ने ट्वीट के जरिए गहलोत सरकार निशाना साधा है। राजे ने जहां नौकरी के नाम पर धोखा देने का आरोप लगाया है तो पूनियां ने बिगड़ी कानून व्यवस्था को लेकर सरकार को घेरा है।

राजे ने लिखा किवादा था हर वर्ष लाखों नौकरियां देने का लेकिन दिया सिर्फ धोखा। एक एक मुख्य परीक्षा दिसंबर 2019 में आयोजित की गई थी, लेकिन 15 माह बीत जाने के बावजूद भी अब तक परिणाम जारी नहीं किया गया है। उन्होंने कहा कि गहलोत सरकार ने युवाओं के साथ धोखा किया है। उन्होंने कहा कि बेरोजगार युवाओं के सपनों पर कांग्रेस का यह कैसा कुठाराघात है। एईएन के पदों पर मुख्य परीक्षा 3-5 दिसंबर तक आयोजित की गई थी और अब तक 15 महीने पूरे हो चुके है। जल्द परिणाम जारी करने के लिए अभ्यर्थी कई जगह अपनी गुहार भी लगा चुके हैं। उसके बाद भी इसका रिजल्ट जारी नहीं हो पाया है। एईएन भर्ती के लिए विज्ञापन 2018 में आया था। 16 दिसंबर 2018 को प्री का पेपर हुआ। फिर 3 से 5 दिसंबर के बीच मुख्य परीक्षा हुई। मुख्य परीक्षा का रिजल्ट जारी नही होने से उम्मीदवारों रोष है। एईएन के 916 पदों पर यह भर्ती निकाली गई थी।

पूनिया ने लिखा गृह विभाग नहीं संभलता तो किसी और को सौंपियें

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष सतीश पूनिया ने ट्वीट के जरिए राज्य की बिगड़ी हुई कानून व्यवस्था और जालौर जिले की घटना को लेकर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत पर निशाना साधा। पूनिया ने ट्वीट में कहा कि अपनी नाबालिग बेटी के अपहरण के मामले में कार्रवाई न होने से त्रस्त जालौर जिले की थूर निवासी हविया कंवर का आत्मदाह पूरे प्रदेश की घोर असुरक्षा का संदेश है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री गहलोत जो प्रदेश के गृहमंत्री भी हैं, उनसे कई बार आग्रह कर चुका हूं कि जब आपसे गृह विभाग नहीं संभलता है तो योग्य हाथों में सौंपिये। पूनिया ने कहा कि गहलोत सरकार ने किसानों, युवाओं, संविदाकर्मियों से तो वादाखिलाफी की है। इसके अलावा महिलाओं और बच्चियों को सुरक्षा देने में भी पूरी तरह विफल साबित हो चुकी है।

Umesh Sharma Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned