लेटर बम के बाद नेताओं में दिखी अदावत, पूनियां आए तो कटारिया उठकर चले गए

भाजपा में लेटर बम ने हल्ला मचा रखा है। इस पत्र की गूंज दिल्ली तक सुनाई दी और भाजपा प्रदेशाध्यक्ष सतीश पूनियां को दिल्ली जाकर स्पष्टीकरण देना पड़ा है। यहीं नहीं इस पत्र की वजह से अब नेताओं के बीच अदावत भी देखने को मिल रही है।

By: Umesh Sharma

Published: 28 Feb 2021, 04:41 PM IST

जयपुर।

भाजपा में लेटर बम ने हल्ला मचा रखा है। इस पत्र की गूंज दिल्ली तक सुनाई दी और भाजपा प्रदेशाध्यक्ष सतीश पूनियां को दिल्ली जाकर स्पष्टीकरण देना पड़ा है। यहीं नहीं इस पत्र की वजह से अब नेताओं के बीच अदावत भी देखने को मिल रही है। ऐसा ही नजारा भाजपा मुख्यालय पर रविवार को अल्पसंख्यक मोर्चा के प्रदेशाध्यक्ष एम. सादिक के पदभार ग्रहण कार्यक्रम में भी देखने को मिला।

कार्यक्रम में हिस्सा लेने के लिए जैसे ही पूनियां भाजपा मुख्यालय पहुंचे तो नेता प्रतिपक्ष गुलाबचंद कटारिया और उपनेता प्रतिपक्ष राजेंद्र राठौड़ उठकर चले गए। कटारिया अपने घर के लिए रवाना हो गए तो राठौड़ संगठन महामंत्री चंद्रशेखर के पास चले गए। नेताओं का कहना था कि पूनियां कार्यक्रम में दो बजे पहुंचे थे। जब तक कटारिया और राठौड़ सहित सभी नेताओं के भाषण हो चुके थे। ये दोनों नेता केवल पूनियां के इंतजार में भी बैठे थे। हालांकि दोनों नेताओं के अचानक चले जाने के राजनीतिक हलकों में अलग-अलग मायने निकाले जा रहे हैं। लेटर बम के बाद कटारिया और राठौड़ संगठन से नाराज दिख रहे हैं। इस मसले पर दोनों नेताओं पर जिस तरह से भेदभाव के आरोप लगे हैं, उससे इन नेताओं की संगठन से अदावत चल रही है।

आमेर में व्यस्त थे पूनियां

बताया जा रहा है कि कार्यक्रम तय समय से कुछ देर बाद ही शुरू हो गया था। कार्यक्रम शुरू होने के बाद कटारिया और राठौड़ भी यहां पहुंचे। दोनों ने भाषण भी दिया, लेकिन आमेर विधानसभा क्षेत्र में मोदी क्लीनिक चिकित्सा शिविर सहित कई कार्यक्रम में व्यस्त होने की वजह से पूनियां दो घंटे बाद कार्यक्रम में शामिल हुए।

Umesh Sharma Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned