Vasundhara Raje के निशाने पर सीएम Ashok Gehlot, बोलीं- 'एक समय राजस्थान सबसे सुरक्षित था, पर अब...'

पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ( Vausndhara Raje ) ने टोंक के अलीगढ़ में छः वर्षीय मासूम बच्ची का रेप के बाद मर्डर की घटना पर चिंता ज़ाहिर की है। साथ ही राजे ने प्रदेश में कानून व्यवस्था पर गहलोत ( Ashok Gehlot ) सरकार को कटघरे में रखा है।

By: nakul

Updated: 03 Dec 2019, 11:24 AM IST

जयपुर।

पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ( Vausndhara Raje ) ने टोंक के अलीगढ़ में छः वर्षीय मासूम बच्ची का रेप के बाद मर्डर की घटना पर चिंता ज़ाहिर की है। साथ ही राजे ने प्रदेश में कानून व्यवस्था पर गहलोत ( Ashok Gehlot ) सरकार को कटघरे में रखा है।


ट्वीट कर दी ये प्रतिक्रिया
पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने टोंक की घटना पर ट्वीट के ज़रिए अपनी प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने लिखा, 'स्तब्ध हूं! निशब्द हूं ! मासूम बच्ची के साथ हुई यह घटना मानवता के विरूद्ध है, जो पूरे समाज को कलंकित करती है। एक समय प्रदेश में अपराध की दर बिल्कुल कम थी तथा राजस्थान देश के सबसे सुरक्षित राज्यों में गिना जाता था। लेकिन अब... '

वहीं पूर्व सीएम राजे ने आगे लिखा, 'अलीगढ़, टोंक में मासूम बेटी के साथ हुई क्रूरता ने पूरे प्रदेश को झकझोर के रख दिया है। इस घटना की जितनी निंदा की जाए, कम है। परिजनों के प्रति मेरी गहरी संवेदनाएं।'

पूनिया भी साध चुके हैं निशाना
पूर्व सीएम राजे से पहले भाजपा के प्रदेशाध्यक्ष डाॅ. सतीश पूनिया ने भी प्रदेश में कानून व्यवस्था की बदहाली पर चिंता व्यक्त की। उन्होंने कहा कि गृहमंत्री के रूप में पूरी तरह फेल हो चुके अशोक गहलोत को नैतिकता के आधार पर गृहमंत्री का पद छोड़कर पूर्णकालिक गृहमंत्री की नियुक्ति करनी चाहिए।

पूनिया ने टोंक में बच्ची के बलात्कार और हत्या की घटना को प्रदेश पर कलंक बताते हुए इसके दोषियों को तुरंत गिरफ्तार करे, बच्ची के परिजनों को सरकार की तरफ से 20 लाख रूपए मुआवजा देने व इस तरह की घटनाओं को रोकने के लिए सरकार के स्तर पर उचित कार्रवाई करने की मांग की।

उन्होंने कहा कि पिछले 24 घण्टे में ही टोंक में 6 वर्ष की बालिका से रेप के बाद हत्या, चुरू में बालिका से बलात्कार, टोंक में ही बजरी माफियाओं द्वारा कांस्टेबल की हत्या, सरेआम राजधानी जयपुर में गोलियां चलने की घटनाओं के अलावा प्रदेशभर में घटित दर्जनों ऐसी वारदात है, जो यह साबित करती है कि प्रदेश में कानून व्यवस्था पूरी तरह पटरी से उतर चुकी है और सरकार अपराधियों पर नकेल कसने में नाकाम साबित हुई है। 

 
''घटना जघन्य अपराध, नहीं बख्शे जाएंगे दोषी'': सीएम गहलोत 
इधर सीएम गहलोत घटना को लेकर पहले ही अपना वक्तव्य दे चुके हैं। सीएम गहलोत ने ट्वीट कर अपनी प्रतिक्रिया में लिखा, ''टोंक, राजस्थान में मासूम बच्ची के दुष्कर्म और हत्या की घटना बेहद निंदनीय और शर्मनाक है। इस जघन्य अपराध के दोषियों को बख्शा नहीं जाएगा।''

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned