सिलिकोसिस का मरीज जब अस्पताल में ही आता है तो वहीं उसका रिकॉर्ड संधारित क्यों नहीं करते

— श्रम मंत्री के रिकॉर्ड संधारित नहीं करने के जवाब पर प्रश्नकाल में अध्यक्ष जोशी ने मंत्री से पूछा

 

Vikas Jain

February, 1407:01 PM


जयपुर। प्रश्नकाल में विधायक पानाचंद मेघवाल ने सुलभ आवास योजना के लाभार्थियों का सवाल लगाया। उन्होंने यह भी पूछा कि विगत पांच वर्षों में प्रदेश में सिलिकोसिस बीमारी से कितने श्रमिकों की मौत हुई। श्रम मंत्री टीकाराम जूली ने कहा कि यह आंकड़ा संधारित नहीं किया जाता है। इस पर मेघवाल ने कहा कि एक तरफ सरकार कह रही है कि 2526 मृतकों को सहायता दी है तो फिर ये लोग सिलिकोसिस बीमारी वाले हैं या अन्य बीमारी वाले। इस पर श्रम मंत्री ने कहा कि रिकार्ड संधारित नहीं किया जाता, लेकिन यदि कोई आवेदन करता है तो उसको सहायता दी जाती है।

मंत्री के जवाब के बाद अध्यक्ष सी.पी.जोशी ने कहा कि सिलिकोसिस के लिए सरकार ने नीति बनाई है। इसमें रिकार्ड संधारण में क्या समस्या है। हम रिकार्ड संधारण क्यों नहीं कर सकते हैं। जब एक श्रमिक बीमार होता है, अस्पताल में जाता है, तो जब अस्पताल में उसकी बीमारी शुरू होती है तो उसका रिकार्ड रजिस्टर रखने में क्या समस्या है। जिससे हमें यह मालूम हो कि यह सिलिकोसिस बीमारी है । इसके बजाय की हम इंतजार करें कि वह हमारे पास आए। इस पर जूली ने कहा कि नीति अभी बनी है, गाइडलाइंस भी बन रही है। संधारण का काम भी किया जाएगा।

Vikas Jain Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned