कोरोना के चलते चावल स्टॉक करेगा वियतनाम

वियतनाम के वित्त मंत्रालय ने अपनी वेबसाइट पर कहा है कि देश के जनरल डिपार्टमेंट ऑफ स्टेट रिजर्व ने 15 जून तक स्टोरेज में 1,90,000 टन चावल रखने की योजना बनाई है।

By: Kiran Kaur

Updated: 27 Mar 2020, 03:45 PM IST

वियतनाम के वित्त मंत्रालय ने अपनी वेबसाइट पर कहा है कि देश के जनरल डिपार्टमेंट ऑफ स्टेट रिजर्व ने 15 जून तक स्टोरेज में 1,90,000 टन चावल रखने की योजना बनाई है ताकि कोरोना वायरस के हालातों में खाद्य संकट से निपटा जा सके। प्रधानमंत्री गुयेन जुआन फुक ने नए चावल निर्यात अनुबंधों को स्थगित करने का आदेश दिया है। भारत और थाईलैंड के बाद वियतनाम दुनिया का तीसरा सबसे बड़ा चावल निर्यातक है। राज्य भंडार विभाग इस साल 80,000 टन धान का भंडार करेगा। सरकार की वेबसाइट के अनुसार फुक ने परिवहन मंत्रालय को 28 मार्च से 15 अप्रैल के बीच हनोई और हो ची मिन्ह सिटी से अन्य वियतनामी शहरों के लिए उड़ानों की संख्या में कटौती करने का आदेश दिया है, यह देशभर में कोरोनोवायरस के प्रकोप को धीमा करने के लिए उठाया गया एक कदम है। हनोई और हो ची मिन्ह सिटी हवाई अड्डों ने विदेश से अंतरराष्ट्रीय आगमन को रोक दिया है और सरकार ने अधिकांश विदेशियों के लिए देश में प्रवेश को निलंबित कर दिया है। वियतनाम में अभी तक कोरोना प्रभावित 150 से अधिक मामले सामने आ चुके हैं। वियतनाम की इस घोषणा के बाद होन्ग कोंग की फिक्रमंद हो गया है और अपने लिये चावल के पर्याप्त स्टॉक को जुटाने में लग गया है। होंग कोंग के चावल विक्रेता का कहना है की स्थानीय जनता को घबराने की कोई जरूरत नहीं है क्यूंकि हमारे पास आवश्यक स्टॉक है, जो कि एक महीने के उपभोग के लिए पर्याप्त होगा। हमारा ज्यादातर स्टॉक थाईलैंड से आता इसलिए चिंता की ज्यादा बात नहीं क्यूंकि थाई प्रशासन अभी भी अपने वादों पर कायम है। हांग कांग में आधी से अधिक आपूर्ति थाईलैंड से होती है जबकि वियतनाम 30 प्रतिशत की दर से दूसरा सबसे बड़ा योगदानकर्ता है। हांग कांग के बाजार में थाई चावल हावी रहा है और 90 प्रतिशत आपूर्ति में योगदान करता है लेकिन हाल के वर्षों में व्यापारियों ने अधिक वियतनामी चावल पेश किया है क्योंकि यह 20 प्रतिशत सस्ता है।

Kiran Kaur Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned