विकास दुबे के एनकाउंटर से डरा सलमान खान को धमकी देने वाला गैंगस्टर

हवा हुआ टशन: गैंगस्टर लॉरेंस विश्रोई, मांगी विशेष सुरक्षा

By: Ankita Sharma

Published: 11 Jul 2020, 11:39 AM IST

चंडीगढ़ जिला अदालत में याचिका दायर की

जयपुर। मौत के आगे गैंग और गैंगस्टर्स के टशन कैसे हवा हो जाते हैं हाल ही में इसका ताजा उदाहरण देखने को मिला है। दरअसल, आठ पुलिसकर्मियों के हत्यारे गैंगस्टर विकास दुबे के एनकाउंटर के बाद अब कुख्यात गैंगस्टर लॉरेंस बिश्रोई डरा हुआ है। उसे डर है कि हिरासत से भागने के नाम पर पुलिस द्वारा उसका भी एनकाउंटर कभी भी किया जा सकता है। इसके चलते उसने चंदीगढ़ की जिला अदालत में शुक्रवार को याचिका दायर कर विशेष सुरक्षा की मांग की है। कभी बॉलीवुड एक्टर सलमान खान को जान से मारने की धमकी देने वाले इस गैंगस्टर की मांग है कि उसे सुनवाई के दौरान हथकड़़ी लगाकर ही पेश किया जाए। कोर्ट ने पुलिस से 13 जुलाई तक मामले में जवाब मांगा है। आपको बता दें कि लॉरेंस फिलहाल भरतपुर जेल में बंद है। लॉरेंस पर राजस्थान सहित पंजाब, हरियाणा में भी कई मामले दर्ज हैं। लॉरेंस उस समय चर्चा में आ गया था, जब उसने बॉलीवुड एक्टर सलमान खान को जान से मारने की धमकी दी थी।


कहा, राजस्थान जेल अथॉरिटी से पूछ लो, नहीं है मेरे पास फोन

लॉरेंस बिश्नोई ने याचिका में कहा है कि पिछले महीने चंदीगढ़ के सेक्टर 33 स्थित शराब कारोबारी सिंगला की कोठी और सेक्टर 9 में शराब ठेके पर हुई फायरिंग में उसका नाम डाला गया है, जबकि इनसे उसका कोई लेना देना नहीं है। वह पिछले दो साल से भरतपुर की जेल में बंद है। उसका कहना है कि उसके पास फोन नहीं है और वह किसी से संपर्क में भी नहीं है। अपने इस दावे को पुख्ता करने के लिए उसने कहा कि इस संबंध में राजस्थान जेल अथॉरिटी से भी सच का पता किया जा सकता है। जिस समय दोनों घटनाएं हुईं, वह जेल में था।


शराब कारोबारियों ने लॉरेंस पर लगाया था आरोप

गौरतलब है कि 31 मई को चार से पांच बदमाशों ने चंडीगढ़ के सेक्टर 33 में शराब कारोबारी सिंगला की कोठी पर गोलियां चलाई गई थीं। और फिर एक लग्जरी कार में बैठकर फरार हो गए थे। शराब कारोबारी अरविंद ने शिकायत में कहा था कि आरोपी उसके भाई की जान लेना चाहते थे। पुलिस की जांच में लॉरेंस बिश्नोई का नाम सामने आया था।2 जून को चंडीगढ़ के ही सेक्टर 9 में स्थित शराब ठेके पर दो युवकों ने फायरिंग की। वारदात के बाद हथियार लहराते हुए शूटर फरार हो गए थे। इस मामले में भी पुलिस जांच में लॉरेंस की भूमिका सामने आई थी। लॉरेंस और उसके गैंग के कई साथी राजस्थान के जेलों में बंद हैं। लॉरेंस जहां भरतपुर जेल में बंद है, वहीं उसके साथी जयपुर और अजमेर की हाई सिक्योरिटी जेलों में बंद हैं। हालांकि इसके बावजूद कई अपराधों में उनके नाम सामने आते हैं।

Ankita Sharma Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned