scriptVillage 'Mauja', present 'Shahadat' | गांव है 'मौजा', पेश हुआ तो 'शहादत' ! | Patrika News

गांव है 'मौजा', पेश हुआ तो 'शहादत' !


- थाने-कोर्ट की कार्यवाही में काम आने वाले उर्दू, फारसी के शब्द होते हैं समझ से परे

- विश्व हिन्दी दिवस पर विशेष

जयपुर

Published: September 14, 2022 10:18:27 pm

जयपुर. जरिए मुखबिर इत्तिला मिली कि बजाज नगर पुलिया के पास एक संदिग्ध खड़ा है...रोजनामचा इंद्राज के बाद हस्वहुक्म मौके पर पहुंचकर हिकमतअमली से पूछताछ की गई। दौराने जामातलाशी हथियार जब्त किया...जुर्म दफा फौजदारी में दर्ज किया। दौराने दरियाफ्त...मौजा कानोता रहवासी बताया..आम आदमी की समझ से परे जटिलता भरे ये उर्दू, फारसी के वाक्य पुलिस रोजनामचा में प्रयुक्त होने वाली भाषा का नमूना मात्र है। फर्द,तहरीर, मजमून, शहादत, फिकरा और मौजा जैसे तकरीबन तीन सौ ऐसे शब्द हैं, जो कोर्ट-थानों में जाने वाले लोगों को क्या, बल्कि नए वकीलों तक को समझ नहीं आए। लेकिन अदालत और पुलिस के दैनिक कामकाज में रोजाना काम लिए जा रहे हैं। पुलिस एफआइआर, एफआर और कोर्ट में पेश प्रगति रिपोर्ट में इन्हीं शब्दों का इस्तेमाल होता है। ये शब्द सुनने में जितने भारी-भरकम है, उनका मतलब भी बड़ा ही अजीबो गरीब है। इसका नुकसान यह होता है कि अच्छे पढ़े लिखे इंसान को भी कानूनी कार्यवाही से दो-चार होते वक्त यह पता नहीं चल पाता कि जो कागज पर जो लिखा है, उसका अर्थ क्या है।
education
education
थाने के कामकाज में आवेदन या सूचना पत्र के लिए तहरीर व जांच के लिए तफ्तीश लिखा जाता है। लापता व्यक्ति के लिए दस्तयाब व निर्जीव के लिए बरामद शब्द काम में लिया जाता है। पूछताछ के लिए दरियाफ्त शब्द लिखा जाता है। गांव के लिए मौजा शब्द व विवरण के लिए मजमून लिखा जाता है। एफआर में अदम सबूत का मतलब साक्ष्य के अभाव में और अदम वकवा या अदम वकू का अर्थ जांच के दौरान घटना प्रमाणित नहीं होना होता है। इसी तरह कोर्ट में साक्ष्य के लिए पेश होने को शहादत कहा जाता है। जबकि किसी मामले में दूसरी बार होने वाले बयान को तितंबा लिखा जाता है। इसी तरह हस्बजैल-उपरोक्तानुसार, हस्ब कायदा - नियमानुसार, मुर्तिब - तैयार करना, फिकरा - पैराग्राफ, मौतबिरान - गवाह को कहा जाता है।दो फीसदी हिन्दी फैसले
अधीनस्थ कोर्ट में करीब सारा काम हिन्दी में हो रहा है। इनमें अब उर्दू फारसी शब्दों के साथ अंग्रेजी की घालमेल हो गई है, लेकिन हाईकोर्ट की बात करें तो दो फीसदी फैसले भी हिन्दी में नहीं होते हैं। आधे से ज्यादा वकील भी कोर्ट में अपनी बात अंग्रेजी में रखते हैं। करीब सारा कागजी काम और आदेश भी अंग्रेजी में ही जारी हो रहे हैं।
कुछ उदाहरण

अदम तामील— नोटिस वापस लौट आनाअहकाम - महत्वपूर्ण

फर्दअफराद- थाने पर किसी घटना की सूचना देना

मालमसरूका- चोरी की संपत्ति

मालमगरूका - डकैती से प्राप्त संपत्ति

मसकन - वांछित अपराधी का मकान या संभावित स्थान
मिन—जानिब देरी का कारण

रोजनामचाआम- सामान्य दैनकी

रोजनामचाखास- अपराध दैनकीसहवन - भूलवश

हस्वहुक्म - मौखिक आदेश

मातहत - अधीनस्थ

फौत- मृत्यु

इस्तगासा- दावा

इमदाद -मदद

दफा -धारा
इत्तलानाम- सूचना पत्र

उज्र- अपत्ति

कलम बंद करना - बयानों को लिखित में लेना

जामातलाशाी - वस्त्रों की तलाशी

खानातलाशी - घर या निवास स्थल की तलाशी

नक्शे अमन - शांति भंग
नजूल -जिस भूमि पर किसी का अधिकार नहीं होता

मुल्तबी - स्थगित

सरीके जुर्म - सह अपराधी

हर्फ बहर्फ - अक्षरश:

सबसे लोकप्रिय

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Weather Update: राजस्थान में बारिश को लेकर मौसम विभाग का आया लेटेस्ट अपडेट, पढ़ें खबरTata Blackbird मचाएगी बाजार में धूम! एडवांस फीचर्स के चलते Creta को मिलेगी बड़ी टक्करजयपुर के करीब गांव में सात दिन से सो भी नहीं पा रहे ग्रामीण, रात भर जागकर दे रहे पहरासातवीं के छात्रों ने चिट्ठी में लिखा अपना दुःख, प्रिंसिपल से कहा लड़कियां class में करती हैं ऐसी हरकतेंनए रंग में पेश हुई Maruti की ये 28Km माइलेज़ देने वाली SUV, अगले महीने भारत में होगी लॉन्चGanesh Chaturthi 2022: गणेश चतुर्थी पर गणपति जी की मूर्ति स्थापना का सबसे शुभ मुहूर्त यहां देखेंJaipur में सनकी आशिक ने कर दी बड़ी वारदात, लड़की थाने पहुंची और सुनाई हैरान करने वाली कहानीOptical Illusion: उल्लुओं के बीच में छुपी है एक बिल्ली, आपकी नजर है तेज तो 20 सेकंड में ढूंढकर दिखाये

बड़ी खबरें

गाय को टक्कर मारने से फिर टूटी वंदे भारत एक्सप्रेस ट्रेन की बॉडी, दो दिन में दूसरी ऐसी घटनाभैंस की टक्कर से डैमेज हुई वंदे भारत ट्रेन, मजबूती पर सवाल उठे तो सामने आया रेलवे मंत्री का जवाबगाज़ियाबाद में दिन-दहाड़े डकैती, कारोबारी की पत्नी-बेटी को बंधक बनाकर 17 लाख के ज़ेवर और 7 लाख रुपए नकद लूटेउत्तरकाशी हिमस्खलन में बरामद किए गए 7 और शव, मृतकों की संख्या बढ़कर 26 हुई, 3 की तलाश जारीNobel Prize 2022: ह्यूमन राइट एक्टिविस्ट एलेस बियालियात्स्की समेत रूस और यूक्रेन की दो संस्थाओं को मिला नोबेल पीस प्राइजयुद्ध का अखाड़ा बनी ट्रेन! सीट को लेकर भिड़ गईं महिलाएं, जमकर चले लात-घूसे, देखें वीडियोलद्दाख में लैंडस्लाइड की चपेट में आए 3 सैन्य वाहन, 6 जवानों की मौतउत्तर से दक्षिण भारत तक बारिश का अलर्ट, कर्नाटक के विभिन्न हिस्सों में बारिश जारी
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.