2321 ग्राम पंचायतों में मतदान शुरू

दूसरे चरण का पंचायत चुनाव
प्रात: 8 से शाम 5 बजे तक डाले जा सकेंगे वोट, फिर शुरू होगी मतगणना
पंच-सरपंच के लिए दूसरे चरण में 59 हजार उम्मीदवारों में मुकाबला
सरपंच के लिए 15334 और पंच पद के लिए 43376 उम्मीदवार मैदान में
77 लाख से ज्यादा मतदाता डाल सकेंगे वोट
चुनाव में 11 हजार ईवीएम का हो रहा इस्तेमाल

 

जयपुर।
राज्य में दूसरे चरण में बुधवार को 2312 ग्राम पंचायतों में मतदान सुबह 8 बजे शुरू हो गया। चुनाव को लेकर राज्य निर्वाचन आयोग की ओर से सुरक्षा के कड़े बंदोबस्त किए गए हैं। सरपंच व वार्ड पंच के लिए चुनाव मैदान में कुल 58 हजार 710 उम्मीदवार हैं। सरपंच पद के लिए 15334 और पंच के लिए 43376 उम्मीदवारों में मुकाबला है। इस चरण की 2333 में से 21 ग्राम पंचायतों में सरपंच और 7466 पंच निर्विरोध चुने जा चुके हैं। मतदाता अपने मताधिकार का उपयोग शाम 5 बजे तक कर सकेंगे। इसके तत्काल बाद ग्राम पंचायत मुख्यालयों पर मतगणना शुरू होगी।

राज्य में दूसरे चरण में चुनाव राज्य के करीब 25 जिलों में हो रहे हैं। चुनाव को देखते हुए सभी क्षेत्रों में पर्याप्त संख्या में पुलिस बल तैनात किया गया है। मतदान दलों ने ही सुरक्षा के बीच मंगलवार शाम को ही सभी बूथों पर व्यवस्थाएं संभाल ली थी। मतदान के बाद मतगणना को देखते हुए सभी क्षेत्रों में कानून व्यवस्था को लेकर तैनात आईएएस व आरएएस अधिकारियों को पहले ही पयर्वेक्षक के रूप में तैनात किया हुआ है।

दूसरे चऱण में 77 लाख से ज्यादा मतदाता हिस्सा लेंगे। चुनाव में 11 हजार से ज्यादा ईवीएम मशीनों का इस्तेमाल किया जा रहा है। चुनाव आयोग की ओर से चुनाव संबंधी किसी भी शिकायत के लिए नियंत्रण कक्ष स्थापित किया गया है। मतदान के लिए मतदाता अपने फोटोयुक्त मतदाता पहचान पत्र के अलावा अन्य वैकल्पिक द्स्तावेज का उपयोग कर सकेंगे।

प्रथम चरण में 74 पंचायत समितियों की 2333 ग्राम पंचायतों में सरपंच पदों के लिए 24 हजार 924 उम्मीदवारों ने 25 हजार 9 नामांकन पत्र दाखिल किए थे। नामांकन पत्रों की जांच के बाद इनमें से 24 हजार 383 नामांकन वैद्य पाए गए। नाम वापसी की तिथि तक इनमें से 9 हजार 28 उम्मीदवारों ने अपने नाम वापस ले लिए थे। इस तरह द्वितीय चरण में सरपंच पद के लिए 15 हजार 334 उम्मीदवार किस्मत आजमा रहे हैं।

इसी प्रकार पंच पद के लिए प्रदेश के 25 जिलों की 2333 ग्राम पंचायतों के 22 हजार 593 वार्डों में 66 हजार 647 उम्मीदवारों ने 66 हजार 696 नामांकन पत्र दाखिल किए थे। नामांकन पत्रों की जांच के बाद 64 हजार 751 उम्मीदवारों के नामांकन वैद्य पाए गए। इन उम्मीदवारों में से 13 हजार 909 उम्मीदवारों ने नाम वापस ले लिए। प्रदेश भर में 7 हजार 466 पंच निर्विरोध चुन लिए गए हैं। वर्तमान में 43 हजार 376 उम्मीदवार पंच पद के लिए मैदान में रह गए हैं। पंच के 75 वार्ड ऐसे रह गए, जिनमें आवेदन नहीं मिले।

Sunil Sisodia Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned