गिद्धों की कॉलोनी, सैकड़ों की तादाद में आए नजर

गिद्धों की कॉलोनी, सैकड़ों की तादाद में आए नजर

Ajay Sharma | Publish: Jan, 15 2019 01:21:11 AM (IST) Jaipur, Jaipur, Rajasthan, India

बर्ड फेस्टिवल: देशी व विदेशी पर्यटकों ने जोड़बीड़ में देखे विभिन्न प्रजातियों को पक्षी

बीकानेर. शहर के जोड़बीड़ कंजरवेशन रिजर्व में सोमवार को वन विभाग व जिला प्रशासन की ओर से बर्ड फेस्टिवल का आयोजन किया गया। इसे देखने बड़ी संख्या में देशी और विदेश पर्यटक भी पहुंचे। पर्यटक आसमान में बाज की अठखेलियां, समूह में बैठे पीली आंख के कबूतर, गिद्धों को देख रोमांचित हो गए। रिजर्व में कजाकिस्तान, अफगानिस्तान, मंगोलिया, रूस आदि जगह से विभिन्न प्रजातियों के पक्षी आए हैं। इनमें मशहूर गिद्ध सिनेरियस वल्चर, हिमालियन ग्रीफॉन, इजिप्शियन वल्चर, स्टेपी ईगल व लेगर फाल्कन शामिल हैं।

पसंदीदा इलाका बन गया
बीकानेर के जोहड़बिड़ कंजर्वेशन रिजर्व क्षेत्र में सात प्रजातियों के गिद्ध इन सालों में आ रहे है।प्रवासी गिद्ध चीन, तिब्बत, मंगोलिया, अफगानिस्तान, कजाकिस्तान से हर साल बीकानेर आते हैं। अक्टूबर के प्रथम सप्ताह में गिद्ध यहां पहुंचने शुरू हो जाते है और मार्च के अंत तक प्रवास करते है। गिद्धों के साथ ही विश्व के कई देशों से विभिन्न प्रजातियों के शिकारी पक्षी चील और बाज भी यहां आते है। इसमें स्टेपी इगल, इम्पीरियल इगल, हॉक इगल, शिकरा, शॉर्टटोड इगल, टवानी इगल, लेगर फाल्कन, वाइट टेल इगल मुख्य है। पक्षी विशेषज्ञों के मुताबिक बदलते वातावरण और माहौल ने गिदृधों के लिए विषम परिस्थतियां पैदा की है। जिसके बाद गिद्ध की संख्या लगातार घटी है।

इगल विश्व के विभिन्न हिस्सों तिब्बत, हिमालय, कजाकिस्तान, मंगोलिया, यूरोप से यहां आते है। गिद्ध व अन्य प्रवासी पक्षियों की संख्या में पिछले पांच साल से हर साल ३०० से ४०० की बढ़ोतरी दर्ज हो रही है। इस साल बीकानेर के जोहड़ बिड़ क्षेत्र में ३ से ४ हजार प्रवासी पक्षियों का जमावड़ा लगा है। पक्षी विशेषज्ञों के अनुसार यहां पर प्रवासी पक्षियों की ५० से अधिक प्रजातियां आ रही है। तीन साल से बीकानेर में वन विभाग की ओर से बर्ड फेस्टिवल का आयोजन किया जा रहा है। एक दिवसीय वर्ड फेस्टिवल में करीब २ हजार देशी-विदेशी पर्यटक पक्षी देखने पहुंचे है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned