scriptWar campaign ForNet Food Deparment Decoy Operation Collector Jaipur | शुद्ध के लिए युद्ध अभियान : मिलावटियों के खिलाफ करेंगे Decoy Operation | Patrika News

शुद्ध के लिए युद्ध अभियान : मिलावटियों के खिलाफ करेंगे Decoy Operation

खाद्य पदार्थों में मिलावट रोकने के लिए एक जनवरी से शुद्ध के लिए युद्ध अभियान चलेगा। इस बार अभियान सख्त होगा और मजबूत कार्रवाई के लिए मिलावटियों के खिलाफ डिकॉय ऑपरेशन किए जाएंगे।

जयपुर

Published: December 29, 2021 04:37:35 pm

जयपुर।

खाद्य पदार्थों में मिलावट रोकने के लिए एक जनवरी से शुद्ध के लिए युद्ध अभियान चलेगा। इस बार अभियान सख्त होगा और मजबूत कार्रवाई के लिए 6 विभागों को साथ जोड़ा गया। सबसे खास बात है कि जिस प्रकार सोनोग्राफी सेंटरों पर भ्रूण परीक्षण रोकने के लिए डिकॉय ऑपरेशन होते हैं। कुछ उसी तर्ज पर मिलावटियों के खिलाफ डिकॉय ऑपरेशन किए जाएंगे।
शुद्ध के लिए युद्ध अभियान : मिलावटियों के खिलाफ करेंगे Decoy Operation
शुद्ध के लिए युद्ध अभियान : मिलावटियों के खिलाफ करेंगे Decoy Operation
इस बार छह विभाग मिलकर मिलावट रोकेंगे। जिला प्रशासन, पुलिस, चिकित्सा, रसद विभाग, बाट माप तौल और डेयरी विभाग मिलकर कार्रवाई करेंगे। पहली बार अभियान में डिकॉय ऑपरेशन को अंजाम देंगे विशेष जांच दल में एसडीओ, तहसीलदार बीडीओ, डिप्टी एसपी, पुलिस निरीक्षक, खाद्य सुरक्षा अधिकारी, विधिक माप विज्ञान अधिकारी और डेयरी प्रतिनिधि शामिल होंगे है। रोजाना रिपोर्ट कलेक्टर को भेजनी पड़ेगी। ऑनलाइन सिस्टम रहेगा। जयपुर जिले में 4 टीमें बनाई गई है। इस अभियान की मॉनिटरिंग जिले में जिला कलेक्टर करेंगे। जिला स्तर पर उनकी अध्यक्षता में कमेटी बनाई गई है और उपखंड स्तर पर एसडीएम की अध्यक्षता में कमेटी बनाई गई है।
सूचना देने वाले को 51 हजार रुपए का इनाम

सरकार ने मिलावट रोकने में महत्ती भू मिका निभाने वाले लोगों को भी पुरस्कृत करने का प्लान बनाया है। मिलावटी खाद्य सामग्री बनाने और बेचने वालों के खिलाफ सही सूचना देने वालों को 51 हजार का इनाम दिया जाएगा। उनका नाम भी गोपनीय रखा जाएगा। इस राशि का वितरण कलेक्टर के द्वारा फूड टेस्टिंग लैब की सूचना के बाद निष्कर्ष प्रमाणित करते हुए दिया जाएगा। मिलावट करने वालो की सूचना कंट्रोल रूम नंबर पर सूचित करें सकते हैं।
यूं होगा अभियान में काम

जिला स्तरीय प्रबंधन समिति द्वारा जिले के खाद्य पदार्थ उत्पाक, बड़े थोक विक्रेता और खुदरा विक्रेता चिन्हित किए जाएंगे। जहां मिलावट की संभावना अधिक रहती है, वहीं समिति द्वारा अभियान की समीक्षा की जाएगी। दूध, मावा, पनीर, आटा, बेसन, तेल, घी, सूखे मेवे, मसालों के नमूने लेकर लैब में जांच होगी। अभियान में 90 दिन में लंबित मामलाें का फैसला हाेगा। सैंपल की रिपाेर्ट आने के बाद फूड सेफ्टी एक्ट में सब स्टेंडर्ड, मिसब्रांड और अनसेफ के मामलों की जांच के बाद चालान अतिरिक्त जिला कलेक्टर कार्यालय में प्रस्तुत हाेता है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

इन नाम वाली लड़कियां चमका सकती हैं ससुराल वालों की किस्मत, होती हैं भाग्यशालीजब हनीमून पर ताहिरा का ब्रेस्ट मिल्क पी गए थे आयुष्मान खुराना, बताया था पौष्टिकIndian Railways : अब ट्रेन में यात्रा करना मुश्किल, रेलवे ने जारी की नयी गाइडलाइन, ज़रूर पढ़ें ये नियमधन-संपत्ति के मामले में बेहद लकी माने जाते हैं इन बर्थ डेट वाले लोग, देखें क्या आप भी हैं इनमें शामिलइन 4 राशि की लड़कियों के सबसे ज्यादा दीवाने माने जाते हैं लड़के, पति के दिल पर करती हैं राजशेखावाटी सहित राजस्थान के 12 जिलों में होगी बरसातदिल्ली-एनसीआर में बनेंगे छह नए मेट्रो कॉरिडोर, जानिए पूरी प्लानिंगयदि ये रत्न कर जाए सूट तो 30 दिनों के अंदर दिखा देता है अपना कमाल, इन राशियों के लिए सबसे शुभ

बड़ी खबरें

देश में वैक्‍सीनेशन की रफ्तार हुई और तेज, आंकड़ा पहुंचा 160 करोड़ के पारपाकिस्तान के लाहौर में जोरदार बम धमाका, तीन की नौत, कई घायलजम्मू कश्मीर में सुरक्षाबलों को मिली बड़ी कामयाबी, लश्कर-ए-तैयबा का आतंकी जहांगीर नाइकू आया गिरफ्त मेंCovid-19 Update: दिल्ली में बीते 24 घंटे के भीतर आए कोरोना के 12306 नए मामले, संक्रमण दर पहुंचा 21.48%घर खरीदारों को बड़ा झटका, साल 2022 में 30% बढ़ेंगे मकान-फ्लैट के दाम, जानिए क्या है वजहचुनावी तैयारी में भाजपा: पीएम मोदी 25 को पेज समिति सदस्यों में भरेंगे जोशखाताधारकों के अधूरे पतों ने डाक विभाग को उलझायाकोरोना महामारी का कहर गुजरात में अब एक्टिव मरीज एक लाख के पार, कुल केस 1000000 से अधिक
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.