कोरोना साइड इफेक्ट—घरों में बढ़ गई पानी की खपत

पांच दिन से 155 की जगह 170 लीटर पेयजल का उपयोग

By: PUNEET SHARMA

Published: 27 Mar 2020, 04:08 PM IST

जयपुर।
प्रदेश में कोरोना के फैलाव का असर दिख रहा है। कोरोना से बचने के लिए लोग घरों में कैद हैं और साफ सफाई का पहले के मुकाबले ज्यादा ध्यान रख रहे है। जिसके चलते शहर में पानी की खपत महज पांच दिन में 20 प्रतिशत तक बढ गई है।
जलदाय विभाग के अधिकारियों के विभाग अभी तक बीसलपुर और शहर में खुदे टयूबवैल से 540 एमएलडी पानी ले रहा था। लेकिन शहर में अब कोरोना के चलते लॉकडाउन है और लोग घरों में रह रहे हैं। लिहाजा एडवाइजरी के अनुसार हर घंटे लोग हाथ धो रहे हैं और घर में दो बार से ज्यादा पोछा भी लग रहा है। ऐसे में पानी की खपत पहले के मुकाबले बढ गई है। लिहाजा प्रतिदिन शहर में 40 एमएलडी पानी अतिरिक्त सप्लाई किया जा रहा है।
वर्ष 2019 में मार्च के महीने में 140 लीटर प्रति व्यक्ति प्रति लीटर पानी का उपयोग था। इस साल मार्च में प्रति व्यक्ति 155 लीटर पानी उपयोग हो रहा था। अब 20 मार्च के बाद इसकी खपत बढ कर 170 लीटर प्रति व्यक्ति हो गई है। इस खपत की पूर्ति के लिए बीसलपुर से 40 एमएलडी पानी अतिरिक्त लिया जा रहा है। बीसलपुर और टयूबवैल से प्रतिदिन 580 एमएलडी पानी की आपूर्ति हो रही है।
शहर में पेयजल की आपूर्ति ज्यादा होने से सुबह शाम आधा घंटे ज्यादा पेयजल की आपूर्ति हो रही है। इस व्यवस्था से लोगों को पेयजल किल्लत से थोड़ी राहत भी मिली है। जलदाय विभाग का कहना है कि मार्च के अंतिम सप्ताह में थोडी गर्मी बढ़ते ही पेयजल किल्लत का दौर शुरू हो जाता है। जलदाय विभाग शहर जयपुर शहर की 30 लाख की आबादी को पेयजल आपूर्ति करता है।

PUNEET SHARMA Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned