जलदाय व जल संसाधन विभाग मिलकर करेंगे सुचारू पेयजल आपूर्ति पर काम

जलदाय विभाग (Water supply department) के अतिरिक्त मुख्य सचिव (एसीएस) सुधांश पंत और जल संसाधन विभाग (Department of Water Resources) के प्रमुख शासन सचिव नवीन महाजन ने इंदिरा गांधी नहर परियोजना (आईजीएनपी) (Indira Gandhi Canal Project) से जुड़े जिलों में नहरबंदी के दौरान शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों में टेल एंड तक सुचारू पेयजल आपूर्ति के लिए पीएचईडी व जल संसाधन विभाग के अधिकारियों को समन्वय के साथ कार्य जारी रखने के निर्देश दिए हैं।

By: Girraj Sharma

Published: 19 Apr 2021, 09:58 PM IST

जलदाय व जल संसाधन विभाग मिलकर करेंगे सुचारू पेयजल आपूर्ति पर काम
— इंदिरा गांधी नहर परियोजना में नहरबंदी पर वीसी
— जलदाय व जल संसाधन विभाग के अधिकारी हुए शामिल
— टेल एंड तक सुचारू पेयजल आपूर्ति के लिए समन्वय से कार्य करने के निर्देश

जयपुर। जलदाय विभाग (Water supply department) के अतिरिक्त मुख्य सचिव (एसीएस) सुधांश पंत और जल संसाधन विभाग (Department of Water Resources) के प्रमुख शासन सचिव नवीन महाजन ने इंदिरा गांधी नहर परियोजना (आईजीएनपी) (Indira Gandhi Canal Project) से जुड़े जिलों में नहरबंदी के दौरान शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों में टेल एंड तक सुचारू पेयजल आपूर्ति के लिए पीएचईडी व जल संसाधन विभाग के अधिकारियों को समन्वय के साथ कार्य जारी रखने के निर्देश दिए हैं।

पंत और महाजन ने सोमवार को वीडियो कांफ्रेसिंग से इंदिरा गांधी नहर परियोजना से जुड़े जिलों के कलक्टर्स, जनस्वास्थ्य अभियांत्रिकी विभाग, जल संसाधन विभाग एवं इंदिरा गांधी नहर परियोजना के अधिकारियों की संयुक्त बैठक ली। पीएचईडी के अतिरिक्त मुख्य सचिव व जल संसाधन विभाग के प्रमुख सचिव ने कहा कि गर्मी के बढ़ते प्रभाव और कोरोना से उपजी परिस्थितियों को देखते हुए आने वाला समय चुनौतीपूर्ण है। ऐसे में नहरबंदी को देखते हुए जिला कलक्टर्स के निर्देशन में जलदाय विभाग और जल संसाधन विभाग के अधिकारी सर्तकता और सजगता के साथ पेयजल प्रबंधन की जिम्मेदारी निभाएं। उन्होंने पेयजल की गुणवत्ता पर भी बराबर फोकस करने के निर्देश दिए।
एसीएस पंत ने कहा कि सभी जिलों में जलदाय विभाग की ओर से गर्मिर्यों में कंटीजेंसी प्लान और टैंकर्स के माध्यम से जल परिवहन व्यवस्था (टीओडब्ल्यू-ट्रांसपोर्टेशन ऑफ वाटर) के लिए स्वीकृतियां जारी की जा चुकी है। स्वीकृत कार्यों को निर्धारित समयावधि में पूरा करें। यदि किसी जिले में पेयजल आपूर्ति की दृष्टि से कटीजेंसी प्लान के तहत और कार्यों के लिए अतिरिक्त राशि की आवश्यकता है तो इसके प्रस्ताव जिला कलक्टर के माध्यम से तैयार कर भिजवाएं। जल संसाधन विभाग के प्रमुख सचिव नवीन महाजन ने इंदिरा गांधी नहर परियोजना के अधिकारियों को निर्देश दिए कि 30 मई तक नहरबंदी के दौरान मरम्मत एवं रखरखाव से सम्बंधित जो कार्य लक्षित किए गए है, उनको पूरा करें। डिग्गियां आदि पूर्ण रूप से भर ली जाए एवं नहरों में ‘पोंडिंग‘ भी पूरी कर ली जाए।

Girraj Sharma Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned