12 हजार गांवों के सभी घरों में नल कनेक्शन का लक्ष्य

प्रदेश में जल जीवन मिशन (Jal Jivan Mission) के तहत गांवों में हर घर नल कनेक्शन देने के लिए वित्तीय वर्ष 2021-22 के लिए वार्षिक कार्ययोजना तैयार कर लिया गया है। इस साल प्रदेश के 12 हजार गांवों के सभी घरों में नल कनेक्शन देने का लक्ष्य (Water Connection target) तय किया गया है। जलदाय विभाग (Water supply department) की ओर से जल शक्ति मंत्रालय और राष्ट्रीय जल जीवन मिशन के अधिकारियों के समक्ष प्रजेंटेशन दिया गया।

By: Girraj Sharma

Published: 23 Apr 2021, 10:35 PM IST

12 हजार गांवों के सभी घरों में नल कनेक्शन का लक्ष्य
— राजस्थान में जल जीवन मिशन में वर्ष 2021-22 का एक्शन प्लान
— जल शक्ति मंत्रालय और राष्ट्रीय जेजेएम टीम के समक्ष प्रजेंटेशन

जयपुर। प्रदेश में जल जीवन मिशन (Jal Jivan Mission) के तहत गांवों में हर घर नल कनेक्शन देने के लिए वित्तीय वर्ष 2021-22 के लिए वार्षिक कार्ययोजना (एन्यूअल एक्शन प्लान) तैयार कर लिया गया है। इस साल प्रदेश के 12 हजार गांवों के सभी घरों में नल कनेक्शन देने का लक्ष्य (Water Connection target) तय किया गया है। जलदाय विभाग (Water supply department) की ओर से शुक्रवार को वीडियों कांफ्रेंसिंग के माध्यम से जल शक्ति मंत्रालय और राष्ट्रीय जल जीवन मिशन (एनजेजेएम) के अधिकारियों के समक्ष विस्तृत प्रजेंटेशन दिया गया।

जलदाय विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव सुधांश पंत ने बताया कि प्रदेश के कई गांवों में शत प्रतिशत हर घर नल कनेक्शन देने पर भी विशेष फोेकस किया जा रहा है। अब तक 528 गांवों के सभी घरों में नल कनेक्शन देने का काम पूरा कर लिया गया है। इस वर्ष राज्य के 12 हजार गांवों के सभी घरों में नल कनेक्शन से जल पहुंचाने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। गुणवत्ता प्रभावित 1950 आबादियों में भी हर घर नल कनेक्शन दिए जाएंगे। प्रदेश में इस साल प्राथमिकता वाले क्षेत्रों में विशेष श्रेणी के जिलों (एस्पिरेशनल डिस्ट्रिक्ट्स) धौलपुर, जैसलमेर, बारां, करौली और सिरोही में 3895 ग्राम और ढाणियों में 3 लाख 32 हजार 852, अकाल से प्रभावित एवं मरूस्थलीय क्षेत्रों में 5020 गांवों में 10 लाख 56 हजार 450 हर घर नल कनेक्शन, सांसद आदर्श ग्राम योजना के तहत सभी 186 गांवों में 36 हजार 100 हर घर नल कनेक्शन तथा अनुसूचित जाति और जनजाति के बाहुल्य वाले क्षेत्रों में 4920 गांव एवं ढाणियों में 8 लाख 95 हजार नल कनेक्शन देने का लक्ष्य तय किया गया है।

अतिरिक्त मुख्य सचिव सुधांश पंत ने प्रजेंटेशन में जल शक्ति मंत्रालय के अधिकारियों को बताया कि प्रदेश में जल जीवन मिशन के कार्यों को गति देने के लिए ठोस प्रयास किए जा रहे हैं। राज्य स्तरीय योजना स्वीकृति समिति (एसएलएससी) के माध्यम से 24 हजार गांवों में 63 लाख हर घर नल कनेक्शन की स्वीकृति जारी की जा चुकी है। उन्होंने बताया कि प्रदेश में जेजेएम के तहत करीब 39 हजार ग्राम जल एवं स्वच्छता समितियों के गठन का कार्य पूर्ण कर लिया गया है।

Girraj Sharma Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned