scriptsummit will be the monitoring of the helicopter | शिखर सम्मेलन कल से, हेलिकॉप्टर से होगी निगरानी | Patrika News

शिखर सम्मेलन कल से, हेलिकॉप्टर से होगी निगरानी

Published: Oct 25, 2015 12:29:12 pm

Submitted by:

firoz shaifi

सोमवार से यहां शुरू हो रहे भारत-अफ्रीका शिखर सम्मेलन के दौरान कानून व्यवस्था और यातायात निगरानी के लिए बड़ी संख्या में सुरक्षाबलों के साथ ही हेलिकॉप्टरों का इस्तेमाल भी किया जाएगा। इसके अलावा कैमरों की मदद भी ली जाएगी ।

सोमवार से यहां शुरू हो रहे भारत-अफ्रीका शिखर सम्मेलन के दौरान कानून व्यवस्था और यातायात निगरानी के लिए बड़ी संख्या में सुरक्षाबलों के साथ ही हेलिकॉप्टरों का इस्तेमाल भी किया जाएगा। इसके अलावा कैमरों की मदद भी ली जाएगी ।

सम्मेलन में हिस्सा लेने के लिए 54 अफ्रीकी देशों के राष्ट्राध्यक्ष और शासनाध्यक्ष पहुंच रहे हैं। ऐसे में आयोजन स्थल इंदिरा गांधी इंडोर स्टेडियम के आसपास के रास्तों और हवाई अड्डे से विदेशी मेहमानों को ठहराए जाने वाले पांच सितारा होटलों तक पहुंचने वाले रास्तों पर वीवीआईपी मूवमेंट को देखते हुए सुरक्षा के विशेष प्रबंध किए गए हैं।

प्रमुख मार्गों पर यातायात में बदलाव भी किया जाएगा। यह व्यवस्था 26 अक्टूबर से लेकर 30 अक्टूबर तक प्रभावी रहेगी। शिखर सम्मेलन में अतिविशिष्ट लोगों के भाग लेने के कारण इनकी सुरक्षा दिल्ली पुलिस के लिए एक बड़ी जिम्मेदारी है।

 अतिविशिष्ट लोगों की बैठक स्थल तक सुगम पहुंच के लिए दक्षिणी दिल्ली और मध्य दिल्ली के कई प्रमुख मार्गों को कुछ समय के लिए या तो बंद रखा जाएगा या इनके यातायात में बदलाव किया जाएगा। सम्मेलन के दौरान ट्रैफिक प्रबंधन की जिम्मेदारी संभालने वाले पुलिस अधिकारी अतिरक्त पुलिस आयुक्त के अनुसार सम्मेलन में शिरकत करने वाले कुछ अतिथियों को प्रधानमंत्री के स्तर की सुरक्षा दी जानी है।

 ऐसे में यातायात पर कुछ प्रतिबंध अवश्य रहेगा लेकिन इससे जाम की कोई समस्या नहीं हेागी। उन्होंने कहा कि पुलिस इस बात का पूरा ध्यान रखेगी कि आम लोगों को कम से कम परेशानी हो। यातायात पर प्रतिबंध या मार्गों में बदलाव शिखर बैठक के दिन 29 अक्टूबर को सबसे ज्यादा रहेगा बाकी दिनों में यह कम कर दिया जाएगा।

 सम्मेलन के दौरान मध्य दिल्ली में सुब्रहमण्यम भारती मार्ग ,भैरों मार्ग ,मथुरा रोड और ङ्क्षरग रोड के कुछ हिस्से को सुबह साढ़े आठ बजे से 10 बजे तक बंद रखा जाएगा। इस दौरान दक्षिणी दिल्ली और लुटियन दिल्ली में पांच सितारा होटलों, जहां सम्मेलन में शामिल होने आए ज्यादातर नेता ठहरने वालें हैं, पर भी यातायात कुछ देर के लिए रोका जाएगा।

हालांकि लोदी रोड ,विकास मार्ग और ङ्क्षरग रोड के बड़े हिस्से पर किसी तरह का ट्रैफिक प्रतिबंध नहीं होगा। हवाई अड्डे से होटल तथा सरदार पटेल और पंचशील मार्ग पर सम्मेलन के आयोजन स्थलों तक के रास्ते एक निश्चित अवधि तक आम लोगों के इस्तेमाल के लिए बंद रहेंगे। दिन के उन चंद घंटों में जब तक सम्मेलन चलेगा इन रास्तों पर केवल लेबल लगी गाडिय़ों को ही आने-जाने की इजाजत होगी।

ट्रेंडिंग वीडियो