wEATHER NEWS : पाला पडऩे से जल रही फसलें

फसलों पर जमी ओस की बूंदी
रबी की फसलों में नुकसान की आशंका

By: Rakhi Hajela

Published: 30 Dec 2020, 06:39 PM IST

Jaipur, Jaipur, Rajasthan, India


प्रदेश में सर्दी का सितम लगातार जारी है। तेज सर्दी, शीतलहर और पाला जड़ से लेकर जीवन सभी को प्रभावित कर रहा है। गत दिनों तेज तापमान के कारण गेंहू, सरसों, की फसलों में काफी नुकसान हो चुका है, लेकिन अब सर्दी बढऩे से किसानों की परेशानी बढ़ गई है क्योंकि अब फसलों में पाला पड़ रहा है। कड़ाके की ठंड के कारण सब्जियों की फसलें झुलसने लगी हैं। अगेती सरसों की फसल में भी पाले से नुकसान हुआ है। किसानों का कहना है कि यदि कुछ दिन भी ऐसा ही मौसम रहा तो उनकी पूरी मेहनत बेकार हो जाएगी। प्रदेश के विभिन्न जिलों पिछले कई दिनों से शीतलहर चल रही है। जिसके चलते फसलों पर अब बर्फ जमने लगी है। इससे रबी की फसलों में नुकसान की आशंका है। पारा गिरने से खेतों में फसलों पर बर्फ जम गई है। वहीं शीतलहर के चलते अनार और टमाटर की फसलों में नुकसान की आशंका से किसानों की चिंता बढ़ गई।
आलू और मटर को नुकसान
जालौर कस्बे में पाला पडऩे से किसानों की खेतों में खड़ी टमाटर, आलू, राजगरा की फसलों के साथ मटर को भारी नुकसान हुआ। किसानों का कहना था कि इससे उनक पूरी मेहनत पर पानी फिर गया। वहीं मांडलगढ़ में भी सर्दी का सितम देखने को मिला। खेतों में बर्फ जम गई। वहीं बड़ानयागांव क्षेत्र में शीतलहर से कड़ाके की सर्दी का सितम दूसरे दिन बुधवार को भी जारी रहा। कड़ाके की सर्दी से आमजन को परेशानी से जूझना पड़ा वहीं खेतों की मेड़ों व खेतों में सब्जियों की फसल पर बर्फ की परत जम गई। किसानों ने बताया कि क्षेत्र में लगातार पाला गिरने से सब्जियों की फसलों में नुकसान होगा। हालांकि कृषि विभाग पाले को देखते हुए किसानों को इससे बचाने के लिए जागरुक कर रहा है।
वहीं करौली के कुडग़ांव क्षेत्र के गांवों में कम मेहनत में अधिक मुनाफा देने वाली टमाटर की फसल इस बार कोहरे के कारण झुलस कर नष्ट हो गई। क्षेत्र के किसान पिछले दस.बारह साल से कम मेहनत के साथ कम समय में अधिक मुनाफा देने वाली टमाटर की फसल की अधिक मात्रा में पैदावार कर रहे है। क्षेत्र के गांव डिकोली कला, बालौती, खिरखिड़ा, रिछोटी, पाटौर, लेदिया, गेरई, सैमरदा,काचरौदा, शेखपुरा सहित कई गांवों के किसान क्षेत्र में दो.तीन माह पूर्व अच्छी क्वालिटी का हाइब्रिड बीज वाले टमाटर लगाए थे, लेकिन तापमान में गिरावट और शीत लहर चलने से रात में टमाटरों पर बर्फ जमने से पौधे झुलसकर नष्ट हो गए।

मौसम विभाग की चेतावनी
वहीं मौसम विभाग ने भी शीतलहर चलने के साथ हल्की बारिश की भी संभावना जताई है।
31 दिसंबर को भीलवाड़ा, झुंझुनू, चूरू, हनुमानगढ़ जिलों में शीत लहर चलने की संभावना है।
1 जनवरी: जयपुर, कोटा और भरतपुर संभाग में हल्की हल्की बूंदाबांदी होने की संभावना।
2 जनवरी: जयपुर, कोटा और भरतपुर संभाग में मेघगर्जन के साथ हल्की बूंदाबांदी होने की संभावना।
3 जनवरी : पूर्वी राजस्थान के जयपुर, कोटा और भरतपुर संभाग के कुछ जिलों में कुछ स्थानों पर मेघगर्जन के साथ हल्के से मध्यम बारिश और पश्चिमी राजस्थान के बीकानेर संभाग में कहीं कहीं मेघगर्जन के साथ हल्की बारिश की संभावना।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned