scriptWeather Update news, rajasthan weather forecast | Weather Update: दो पश्चिमी विक्षोभ करेंगे राजस्थान के मौसम में बड़ा बदलाव | Patrika News

Weather Update: दो पश्चिमी विक्षोभ करेंगे राजस्थान के मौसम में बड़ा बदलाव

राजस्थान में बीते 48 घंटे से पारे में बढ़ोतरी दर्ज होने के साथ ही शीतलहर का असर कम होने से ठंड से प्रदेशवासियों को हल्की राहत मिली है।

जयपुर

Published: December 24, 2021 11:03:28 am

जयपुर। राजस्थान में बीते 48 घंटे से पारे में बढ़ोतरी दर्ज होने के साथ ही शीतलहर का असर कम होने से ठंड से प्रदेशवासियों को हल्की राहत मिली है। न्यूनतम और अधिकतम तापमान की बात की जाए तो इसमें 4-5 डिग्री तक बढ़ोतरी हुई। सप्ताह की शुरुआत में जहां न्यूनतम तापमान चूरू, सीकर, फतेहपुर, करौली में माइनस में था वह बढ़कर अब सात डिग्री सेल्सियस के पार पहुंच चुका है। वहीं पिलानी, कोटा, जयपुर, सीकर, उदयपुर, चूरू में दिन का अधिकतम तापमान 20 से 21 डिग्री सेल्सियस के आसपास था, जो बढ़कर अब 25 से 28 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच गया।

winter_6_1.jpg

होंगे दो विक्षोभ सक्रिय
जयपुर मौसम केंद्र के प्रभारी आरएस शर्मा ने बताया कि राजस्थान में दो पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय होने की परिस्थितियां अनुकूल बन रही है। उत्तर पश्चिमी भारत में नया विक्षोभ 24 दिसम्बर से सक्रिय होगा। वहीं दूसरा विक्षोभ 26 दिसम्बर से सक्रिय होने के साथ ही इन दोनों तंत्र का असर 26 से 28 दिसम्बर तक बना रहने की संभावना है। इसके असर के चलते प्रदेश के उत्तरी और आसपास के क्षेत्रों में हल्के से मध्यम दर्जे की बारिश होने के साथ ही आगामी दिनों में तापमान में गिरावट के साथ ही कई जिलों में घना कोहरा और कड़ाके की सर्दी लोगों को सताती हुई नजर आएगी। शेखावाटी अंचल में खासतौर पर पारा माइनस में दर्ज किया जा सकता है। इसके साथ ही जोबनेर, माउंटआबू में भी पारा कम होने के पूरे आसार हैं। 26 दिसंबर को बीकानेर में बादल छाएंगे वहीं 27 को बीकानेर, भरतपुर, जयपुर, अजमेर में हल्की बारिश के साथ ही बादल छाने के पूरे आसार हैं। इससे शीतलहर का असर भी बढ़ेगा।

प्रमुख जगहों का पारा
बीती रात को फतेहपुर का पारा 9 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। बीते चार दिनों में पारा 9 डिग्री से अधिक दर्ज किया गया। वहीं जयपुर के जोबनेर का पारा 6.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। वहीं चूरू का पारा 9, जयपुर का 11 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। वहीं सीकर, पिलानी, करौली का भी पारा पांच डिग्री के पार दर्ज किया गया। इसके साथ ही सीकर सहित अन्य जगहों पर कोहरा छाया रहा। इससे जनजीवन अस्त व्यस्त रहा।

ठंडा मौसम चिल्लई कलां शुरू
इधर मौसम विभाग के मुताबिक कश्मीर में साल का सबसे ठंडा मौसम चिल्लई कलां शुरू हो गया है। चिल्लई कलां एक फारसी शब्द है जिसका अर्थ है बड़ी सर्दी 40 दिनों की कड़ाके की सर्दी के आगमन के साथ, जम्मू-कश्मीर के कई जिलों में ठंडी लहरों ने अपनी चपेट में ले लिया है। राष्ट्रीय राजधानी और आसपास के क्षेत्रों में तापमान में तेजी से गिरावट के साथ दिल्ली में भी भारी ठंड देखी जा रही है। इसका असर राजस्थान में भी साल के आखिरी सप्ताह में पूरी तरह से हावी रहेगा। वहीं हिमालय, उत्तराखंड सहित अन्य जगहों पर बीच बीच में बर्फबारी का असर जारी है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.