मैं उस भू-भाग का राज्यपाल हूं, जहां मर्जी से वोट देने वालों को प्रताड़ित किया जाता है-धनखड़

पश्चिमी बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने बंगाल की सीएम और वहां के पुलिस-प्रशासन को कटघरे में खड़ा किया है। उन्होंने कहा कि देश में राष्ट्रवाद के विपरित काम करने वाले लोग खुलकर सामने आ गए हैं। ये सब षड्यंत्र कर भारत की मूल भावना पर हमला कर रहे हैं। इस षड्यंत्र से हर व्यक्ति को लड़ना पड़ेगा। धनखड़ ने शनिवार को धानक्या में पं. दीनदयाल उपाध्याय की जयंती पर 'आजादी का अमृत महोत्सव' विषय पर आयोजित व्याख्यानमाला में यह बात कही।

By: Umesh Sharma

Published: 25 Sep 2021, 07:36 PM IST

जयपुर।

पश्चिमी बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने बंगाल की सीएम और वहां के पुलिस—प्रशासन को कटघरे में खड़ा किया है। उन्होंने कहा कि देश में राष्ट्रवाद के विपरित काम करने वाले लोग खुलकर सामने आ गए हैं। ये सब षड्यंत्र कर भारत की मूल भावना पर हमला कर रहे हैं। इस षड्यंत्र से हर व्यक्ति को लड़ना पड़ेगा। धनखड़ ने शनिवार को धानक्या में पं. दीनदयाल उपाध्याय की जयंती पर 'आजादी का अमृत महोत्सव' विषय पर आयोजित व्याख्यानमाला में यह बात कही।

उन्होंने कहा कि मैं उस भू भाग का राज्यपाल हूं, जहां लोगों को इस बात के लिए प्रताड़ित किया जाता है कि आपने प्रजातंत्र में अपनी मर्जी से वोट देने की हिमाकत कैसे कर दी ? उन्होंने साफ कहा कि मानव अधिकारों का हनन हो तो व्यक्ति न्यायालय और प्रशासन के पास जाता है।
अगर दोनों ही जगह सुनवाई नहीं होती है तो व्यक्ति कहां जाए ? खास बात यह है कि मानवाधिकारों का हनन करने वालों की प्रशासन मदद करता है। मानव अधिकारों का हनन सरकारी सिस्टम सुनियोजित तरीके से एक राजनीतिक उपलब्धि के लिए करता है जो कि भारत के मूल अधिकारों पर कुठाराघात करती है। आज मेरे प्रांत में मेरे सामने दो स्थितियां हैं। एक वो लोग हैं जो चैन की नींद सो रहे हैं, उनका प्रशासन कुछ नहीं करेगा, वो चाहे जितना ही मानवाधिकारों का हनन करें। एक वो हैं जो एक पल भी नहीं सो पाते हैं। इससे पहले मुख्य वक्ता भाजपा के संगठन महामंत्री चंद्रशेखर ने आजादी के अमृत महोत्सव पर अपनी बात रखी। केंद्रीय मंत्री अर्जुन राम मेघवाल ने दीनदयाल उपाध्याय के एकात्म मानववाद की सराहना की। कार्यक्रम में जयपुर जिला प्रमुख रमा देवी सहित अनेक लोग उपस्थित थे।

सीएम ने सीबीआई को गिरफ्तारियां नहीं करने दी

धनखड़ ने कहा कि कई बार मीडिया और सोशल मीडिया को देखकर दंग रह जाता हूं। ऐसी घटना विशेष प्रांत में हो जाती तो पूरे देश का मीडिया उसे शीर्ष पर ले जाता। लेकिन जिस प्रांत में मैं हूं वहां की मुख्यमंत्री सीबीआई की गिरफ्त से लोगों को छुड़ाने पहुंच जाती है। छह घंटे तक धरना देती है। सोशल मीडिया और अखबार व अन्य मीडिया में यह जानकारी प्रमुख रूप से नहीं आती है।

ज्यादा ताकत के साथ जा रहा हूं

धनखड़ ने प्रधानमंत्री मोदी की सराहना की और कहा कि उन्होंने दीनदयाल के सिद्धांत को जमीन पर उतारा। उन्होंने राष्ट्रवाद के विपरीत काम करने वाले लोगों पर प्रहार किया और कहा कि जो लोग देश की छवि को धूमिल करना चाहते हैं, उन्हें आईना दिखाना पड़ेगा।

ज्यादा ताकत के साथ जा रहा हूं

धनखड़ ने कहा कि मेरे लिए यहां आना तीर्थ यात्रा की तरह है। मैं पश्चिम बंगाल का राज्यपाल हूं। मेरी मनोस्थिति, वहां का दर्द, वहां की समस्याएं हैं। यहां आने के बाद ज्यादा ताकत और संकल्प के साथ जा रहा हूं। मेरे मन में कोई शंका नहीं कि दीनदयाल उपाध्याय ने जो बीज बोया था, उसके बिना हम संस्कृति और आजादी को नहीं बचा पाएंगे।

Umesh Sharma Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned