द्रव्यवती नदी प्रोजेक्ट पर किसका मंडरा रहा साया...जानने के लिए पढ़ें खबर

Savita Vyas | Publish: Sep, 10 2018 02:31:15 PM (IST) Jaipur, Rajasthan, India

द्रव्यवती नदी प्रोजेक्ट पर लेटलतीफी का साया इस कदर पीछे पड़ा है कि बार—बार काम पूरा करने की डेडलाइन तय करने के बाद भी द्रव्यवती नदी के काम में देर पर देर हो रही है।

जयपुर.

द्रव्यवती नदी प्रोजेक्ट पर लेटलतीफी का साया इस कदर पीछे पड़ा है कि बार—बार काम पूरा करने की डेडलाइन तय करने के बाद भी द्रव्यवती नदी के काम में देर पर देर हो रही है। 10 सितंबर तक काम पूरा करने के अल्टीमेटम के बाद ाी काम पूरा नहीं हो पाया है।


पहले यह 15 अगस्त तक पूरा किया जाना था लेकिन काम पूरा नहीं होने पर नई तारीख 31 अगस्त और बाद में 10 सित बर तय की गई थी। इसके लिए कर्मचारियों की सं या ाी बढ़ा दी गई थी। इस दौरान दिन-रात काम चलाया गया। आज सोमवार को 10 सितंबर तक की समयावधि पूरी हो गई। इस दौरान मुश्किल से 25 फीसदी काम ाी आगे नहीं बढ़ पाया। अब जेडीए के अधिकारी 10 दिन और बढ़ाकर 20 सितंबर तक काम पूरा कर लेने का दावा कर रहे हैं।


जेडीए के मुताबिक निर्माण कार्य की र तार को बारिश ने रोक दिया। बीते तीन-चार दिन से हो रही लगातार बारिश की वजह से काम एक तरह से बंद ही पड़ा है। थोड़ा-बहुत काम बहुत ही धीमी गति से हो रहा है। वहीं बारिश के पानी से पहले हो चुका काम क्षतिग्रस्त हो गया है।


चालू नहीं कर सके एसटीपी
जेडीए अधिकारियों का कहना है बारिश की वजह से चैक डेम को सबसे ज्यादा नुकसान हुआ है। जिन पांच सीवर ट्रीटमेंट प्लांट (एसटीपी) को चालू करने का दावा 10 सित बर तक किया जा रहा था, उनमें से अब तक रीको की एसटीपी को ही चालू किया जा सका है। एक दो दिन में बस्सी में बनी एसटीपी को भी चालू करने का दावा जेडीए की ओर से किया जा रहा है।


-अजमेर रोड स्थित सुशीलपुरा पुलिया से टोंक रोड के बीच काम तेजी से चल रहा है। बारिश की वजह से काम प्रभावित हुआ है। द्रव्यवती का काम हर हालत में 20 सित बर तक पूरा कर दिया जाएगा।
वैभव गालरिया, जेडीसी

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned