वॉट्सअप पे जल्द होगा लॉन्च, मिली सरकार की क्लीनचिट

भारत में वॉट्सएप पर इस्तेमाल 40 करोड़ से ज्यादा यूज़र्स

दुनियाभर में डिजिटल ट्रांसजेक्शन को बढ़ावा मिल रहा है। भारत में भी इस दिशा में कदम उठाए जा रहे हैं। इसी क्रम में सरकार की ओर से एक और कदम बढ़ाए गया है। दरअसल सरकार ने सबसे बड़े सोशल मैसेजिंग एप वॉट्सएप पे को मंजूरी दे दी है। मिली जानकारी के अनुसार अब जल्द ही वॉट्सएप की ओर से इसे भारत में लॉन्च किया जा सकेगा।
आपको बता दें कि वॉट्सएप पे सेवा अभी तक भारत में कुछ चुनिंदा यूज़र्स के लिए टेस्टिंग फेज़ में उपलब्ध थी। अब इंस्टेंट मैसेजिंग ऐप को भारत में नेशनल पेमेंट कॉर्पोरेशन ऑफ इंडिया की ओर से लाइसेंस भी दे दिया गया है। रिपोर्ट के मुताबिक, अब कंपनी चरणबद्ध तरीके से भारत में सभी यूज़र्स के लिए वॉट्सएप पे सेवा जारी कर सकती है। इस पेमेंट सेवा के जरिए यूज़र्स एप के अंदर से ही भारत सरकार की युनिफाइड पेमेंट इंटरफेस यूपीआई का इस्तेमाल कर डिजिटल लेन-देन कर सकते हैं। फेसबुक के स्वामित्व वाली इंस्टेंट मैसेजिंग ऐप वॉट्सएप ने 2018 में इस पेमेंट सेवा को बीटा टेस्टिंग के रूप में लगभग 10 लाख यूज़र्स के लिए जारी किया था। लेकिन नियामक की मंज़ूरी में देरी के चलते सेवा को सभी यूज़र्स तक नहीं पहुंचाया जा सका। एक रिपोर्ट के मुताबिक वॉट्सएप पे को भारत में पहले फेज़ के जरिए लगभग 10 लाख यूज़र्स तक पहुंचाया जाएगा। अभी कंपनी लंबे समय से ॅइसका लाइसेंस का इंतजार कर रहे थे, जो उन्हें अब मिल गया है। एक्सपट्र्स की मानें, तो वॉट्सएप पे सर्विस पूरी तरह से जारी होने के बाद यह भारत की सबसे बड़ी मोबाइल पेमेंट सेवा में से एक बन जाएगी। इसके पीछे की वजह है कि वॉट्सएप का भारत में बड़े पैमाने पर इस्तेमाल होना है। बता दें कि इस समय भारत में वॉट्सएप पर इस्तेमाल 40 करोड़ से ज्यादा यूज़र्स करते हैं। कंपनी ने वॉट्सएप सेवा को टेस्टिंग मोड के तौर पर फरवरी 2018 में लॉन्च किया था। इस मोड को इस्तेमाल करने वाले यूज़र्स के पास ऐप के अंदर एक पेमेंट विकल्प आता है, जिसके जरिए यूज़र्स एप के अंदर से ही यूपीआई पर आधारित लेन-देन कर सकते हैं।

Khusendra Tiwari Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned