कौन रहेगा सत्ता में, कौन संगठन में...एआईसीसी करेगी फैसला

राज्यसभा चुनाव के दौरान लंबे समय तक चली बाड़ाबंदी ( Long Badabandi ) के बाद भी सत्तारूढ़ कांग्रेस ( Congress ) में सियासी चर्चाओं का दौर जारी है। प्रदेशाध्यक्ष के बदलाव के सवाल पर उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट ( Sachin Pilot ) ने कहा कि ये फैसला एआईसीसी ( AICC ) को करना है कि सत्ता ( Power ) और संगठन ( Organisation ) में किसे रखना है। ( Jaipur News )

By: sanjay kaushik

Updated: 24 Jun 2020, 01:48 AM IST

-प्रदेश अध्यक्ष बदलने के मुद्दे पर बोले डिप्टी सीएम पायलट...

-राजनीतिक नियुक्तियां और फे रबदल भी समन्वय समिति के जरिए ही

जयपुर। राज्यसभा चुनाव के दौरान लंबे समय तक चली बाड़ाबंदी ( Long Badabandi ) और कथित आतंरिक मतभेदों ( Internal Coflict )के बाद भी सत्तारूढ़ कांग्रेस ( Congress ) में सियासी चर्चाओं का दौर जारी है। माना जा रहा है कि अब फे रबदल और राजनीतिक नियुक्तियों को लेकर सत्ता और संगठन में फिर से आमना-सामना हो सकता है। इस बीच प्रदेशाध्यक्ष के बदलाव के सवाल पर मंगलवार को उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट ( Sachin Pilot ) ने कहा कि ये फैसला एआईसीसी ( AICC will decide ) को करना है कि सत्ता ( Power ) और संगठन ( Organisation ) में किसे रखना है। ( Jaipur News ) राजनीतिक नियुक्ति को लेकर उन्होंने कहा कि समन्वय समिति के माध्यम से राजनीतिक नियुक्तियां होगी। नियुक्तियां, फेरबदल इन सभी पर समन्वय समिति में ही फैसला होगा। कमेटी का गठन ही इस मकसद से किया गया है। पायलट ने प्रदेश कांग्रेस समिति में संजय गांधी की पुण्यतिथि पर आयोजित कार्यक्रम के बाद मीडिया से बातचीत में ये बातें कहीं।

-हर हाल में दिलवाऊंगा कार्यकर्ताओं को सम्मान

पायलट ने बातचीत में कार्यकर्ताओं को लेकर कहा कि कार्यकर्ताओं के मान-सम्मान का मैंने बीड़ा उठाया है, जिन कार्यकर्तओं ने पांच साल मेहनत की खून पसीना बहाया है, उनका मान सम्मान रखना, उनके हितों की रक्षा करना मेरी जिम्मेदारी है। हर हाल में कार्यकर्ताओं को उचित सम्मान दिलवाऊंगा।

-राज्यसभा चुनाव के दौरान पैदा संशय का कोई आधार नहीं

पायलट ने राज्यसभा चुनाव पर कहा कि हमारे दोनों उम्मीदवारों को संख्या बल के आधार पर पूरे वोट मिले। हमने दावा किया था और दावे के अनुसार हमारी पार्टी के विधायक-समर्थक विधायक साथ रहे। उस दौरान जो भी कहा गया, संशय पैदा किया गया, उसका कोई आधार नहीं था।

-सैनिकों की शहादत को नमन

भारत-चीन गतिरोध पर पायलट ने कहा कि हम वीर सैनिकों की शहादत को नमन करते हैं। 130 करोड़ देशवासी और हम हमारी सेना के साथ पहले खड़े थे, खड़े हैं और खड़े रहेंगे। मनमोहन सिंह ने कहा शब्दों का खेल नहीं होना चाहिए, जो भी असंमजस है, स्पष्ट बताना चाहिए।

sanjay kaushik Incharge
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned