रामगंज तक पहुंचते-पहुंचते क्यों दम तोड़ देता है भीलवाड़ा मॉडल

जयपुर शहर के प्रथम मेयर एवं भाजपा के पूर्व विधायक मोहनलाल गुप्ता ने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत से सवाल किया है कि भीलवाड़ा मॉडल आखिर जयपुर के रामगंज तक पहुंचते पहुंचते कैसे दम तोड़ देता है? जिस तरह की सख्ती भीलवाड़ा में की गई थी वैसी सख्ती यहां क्यों नहीं कर पाते और किन लोगों के कारण नहीं कर पाते हैं?

By: Prakash Kumawat

Published: 23 Apr 2020, 10:21 PM IST

रामगंज तक पहुंचते-पहुंचते क्यों दम तोड़ देता है भीलवाड़ा मॉडल
जयपुर
जयपुर शहर के प्रथम मेयर एवं भाजपा के पूर्व विधायक मोहनलाल गुप्ता ने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत से सवाल किया है कि भीलवाड़ा मॉडल आखिर जयपुर के रामगंज तक पहुंचते पहुंचते कैसे दम तोड़ देता है? जिस तरह की सख्ती भीलवाड़ा में की गई थी वैसी सख्ती यहां क्यों नहीं कर पाते और किन लोगों के कारण नहीं कर पाते हैं?

पूर्व विधायक गुप्ता ने कहा कि मुख्यमंत्री का प्रत्येक निर्धन परिवारों को 10 किलो राशन उपलब्ध कराने का दावा भी हास्यापद है। ऐसे राशनकार्ड धारकों को केन्द्र तथा राज्य की सूची में आते हैं, उन्हें अनाज उपलब्ध ही नहीं हुआ तो आखिर सरकार ने वह राशन सामग्री कहां बांटी गई है। इसकी जानकारी सरकार जनप्रतिनिधियों को उपलब्ध कराएं। झूंठे दावें मीडिया में न करें। कांग्रेस के नेता कोरोना संक्रमण के इस दौर में माहौल खराब करने में लगे हैं। राशन सामग्री में उनके दबाव के चलते भेदभाव बरता जा रहा है। वे भेदभाव करके खुद इसे सांप्रदायिक रंग देने की कोशिश कर रहे हैं और आरोप भाजपा पर लगा रहे हैं। इसलिए मुख्यमंत्री को इस मामले की भी जांच करानी चाहिए।

BJP
Prakash Kumawat
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned