जनता की बात सदन में सदैव रखूंगा - बलजीत यादव

जनता ने चुन कर भेजा है...
... तो जनता की बात सदन में सदैव रखूंगा - बलजीत यादव

दिया ज्ञापन व आभार पत्र

By: Rakhi Hajela

Published: 02 Mar 2021, 09:15 PM IST

विधानसभा के पटल पर दूसरी पर अभिभावकों का पक्ष रखने और सरकार से अभिभावकों को न्याय देने की मांग करने के लिए संयुक्त अभिभावक संघ ने बहरोड के विधायक बलजीत यादव का ना केवल सम्मान किया बल्कि, अभिभावकों से जुड़ी अन्य जानकारियों को लेकर ज्ञापन भी दिया और विधानसभा के पटल पर अभिभावकों का दर्द साझा करने को लेकर आभार पत्र भी भेंट किया।

विधायक ने कहा, जनता ने चुन कर हमें सदन में भेजा है हमारा फर्ज बनता है उन्हें न्याय दिलवाए, उनकी पीड़ाओं को सदन के पटल पर रखे। प्रदेश में राजनीतिक दलों के १९५ विधायक बैठे हैं किंतु किसी को जनता के दर्द की परवाह नहीं है, प्रदेश का अभिभावक पिछले एक वर्ष से स्कूल, कॉलेज और कोचिंग संस्थानों की जबर्दस्ती की लूट से प्रताड़ित हो रहा है किंतु कोई अभिभावकों के दर्द को समझना ही नहीं चाहता। विधानसभा अभी चल रही है में सदैव जनता और अभिभावकों के साथ खड़ा था, खड़ा रहूंगा आगे जब भी अवसर मिलेगा मैं अभिभावकों की बात हर प्लेटफॉर्म पर रखूंगा।
संघ के प्रदेश प्रवक्ता अभिषेक जैन बिट्टू ने बताया कि विधायक बलजीत यादव ने अभिभावकों की आवाज को सदन के पटल पर रखकर बताया कि कैसे प्रदेश में निजी स्कूलों, कॉलेजों और कोचिंग संस्थानों द्वारा अभिभावकों को लूटा जा रहा, उन्हें प्रताड़ित किया जा रहा है। मंगलवार संघ ने उनका आभार व्यक्त किया। इस दौरान संघ प्रदेश अध्यक्ष अरविंद अग्रवाल, जयपुर जिला अध्यक्ष युवराज हसीजा, अभिभावक राजेन्द्र भवसार, प्रमोद बाकलीवाल, संदीप छाबड़ा आदि उपस्थित थे।
स्कूलों को पाबंद ना कर एसओपी की पालना करवाएं शिक्षा विभाग
शहर के विभिन्न स्कूलों में हुए विरोध प्रदर्शन के बाद संयुक्त अभिभावक संघ सहित अन्य संगठनों ने जिला शिक्षा अधिकारी से मुलाकात कर अभिभावकों का पक्ष रखते हुए ज्ञापन सौंपा था। जिस पर जिला शिक्षा अधिकारी मुख्यालय (माध्यमिक) जयपुर ने सरकार की कोविड - १९ के अंतर्गत एसओपी का हवाला देकर सभी स्कूलों को एसओपी को लेकर पाबन्द किया है।
प्रदेश अध्यक्ष अरविंद अग्रवाल ने कहा कि स्कूलों को पांबद करने को लेकर सरकार पहले ही एसओपी जारी कर चुकी है बात उसकी पालना को लेकर है मंगलवार को भी जो पत्र जारी हुआ है उसमें भी स्कूलों को पाबंद किया है सँयुक्त अभिभावक संघ मांग करता है कि विभाग स्कूलों को पाबंद करने के साथ-साथ एसओपी की पालना भी करवाये जिससे अभिभावकों पर कोई स्कूल जबर्दस्ती दबाव ना बना सके।

Rakhi Hajela Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned