अब महिला कांग्रेस की भी बनेगी यूथ विंग

firoz shaifi | Publish: Sep, 08 2018 02:06:50 PM (IST) Jaipur, Rajasthan, India

16 से 27 साल की युवतियों को जोड़ा जाएगा यूथ विंग से

जयपुर। राहुल गांधी के कांग्रेस का राष्ट्रीय अध्यक्ष बनने के बाद कांग्रेस से जुड़े सभी संगठनों के ढांचे में बदलाव किया जा रहा है। बदलाव का असर कांग्रेस के अग्रिम संगठनों में भी देखने को मिल रहा है। सेवादल के बाद अब महिला कांग्रेस के संगठनात्मक ढांचे में बदलाव की कवायद चल रही है। युवाओं को ज्यादा से ज्यादा पार्टी से जोड़ने की राहुल गांधी की रणनीति के तहत इन संगठनों में बदलाव किया जा रहा है।

पार्टी के जानकार सूत्रों की माने तो राष्ट्रीय नेतृत्व ने महिला कांग्रेस की भी यूथ विंग बनाई है, जिसे 'प्रियदर्शनी' का नाम दिया है। महिला कांग्रेस की राष्ट्रीय महामंत्री और यूपी से कांग्रेस विधायक अदिति सिंह को यूथ विंग का नेशनल कॉर्डिनेटर बनाया गया है।


16 से 27 साल की युवतियों को जोड़ना लक्ष्य
पार्टी सूत्रों की माने तो महिला कांग्रेस की यूथ विंग बनाने के पीछे पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी की सोच है कि 16 से 27 साल की स्कूल-कॉलेजों की छात्र-छात्राओं और युवतियों को पार्टी से जोड़ा जाए, छात्र-छात्राओं और युवतियों के कांग्रेस के पक्ष में आने पार्टी को और मजबूती मिलेगी।


बताएंगे कांग्रेस की रीति-नीति
बताया जाता है कि महिला कांग्रेस की यूथ विंग की कार्यकर्ता छात्र-छात्राओं और युवतियों के बीच जाकर उन्हें कांग्रेस की रीति नीतियों के बारे में जानकारी देंगी। साथ ही महिला हितों के लिए कांग्रेस की सरकारों की ओर से उठाए गए कदमों को लेकर भी जानकारी देंगी।


हर प्रदेश में गठित होगी यूथ विंग
बताया जाता है कि महिला कांग्रेस की यूथ विंग'प्रियदर्शनी' का गठन हर प्रदेश में किया जाएगा। इस साल केआखिर में जिन राज्यों में विधानसभा चुनाव होने हैं, वहां यूथ विंग के गठन की कवायद शुरू भी कर दी गई है। प्रदेश में महिला कांग्रेस की एक प्रदेश पदाधिकारी को यूथ विंग की जिम्मेदारी दी गई है। हालांकि उसकी औपचारिक घोषणा होना बाकी है। यूथ विंग की प्रदेश कॉर्डिनेटर हर जिले में विंग की जिला कॉर्डिनेटर नियुक्ति करेंगी।


इनका कहना है
हां महिला कांग्रेस की यूथ विंग का गठन किया जा रहा है, विंग के जरिए 16 से 27 साल की युवतियों को कांग्रेस की विचार धारा से जोड़ा जाएगा।
रेहाना रियाज, प्रदेशाध्यक्ष, प्रदेश महिला कांग्रेस

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned