महिलाएं अपराधों के प्रति मूकदर्शक नहीं बनें, अपनी चुप्पी तोड़ें

जयपुर पुलिस कमिश्नरेट की ओर से नुक्कड़ नाटकों का आयोजन

 

 

 

By: Amit Pareek

Published: 17 Feb 2021, 12:06 AM IST

जयपुर. महिलाएं अपराध के खिलाफ आवाज बुलंद करें। अपराध के खात्मे के लिए विरोध जरूरी है। चुप्पी से अपराध करने वालों के हौसले बढ़ते हैं और इससे कहीं न कहीं अपराधों में भी वृद्धि होती है। इसी थीम को लेकर नुक्कड़ नाटक खेला गया। जयपुर कमिश्नरेट की ओर से संचालित सशक्त नारी, सुरक्षित नारी अभियान के तहत नुक्कड़ नाटक का आयोजन शहर के अलग-अलग भागों में जागरूकता के लिए किया गया।
मेट्रो पुलिस उपायुक्त ऋचा तोमर के अनुसार इस जनजागरूकता कार्यक्रम के जरिए यह संदेश दिया गया कि महिलाएं घर एवं सार्वजनिक स्थानों पर होने वाले अपराधों के खिलाफ मूकदर्शक बनकर न रहें। वे इसके विपरीत इस चुप्पी को तोड़ें। कोई भी शिकायत हो तो पुलिस को अवश्य बताएं। उन्होंने विश्वास दिलाया कि पुलिस हमेशा महिलाओं की सुरक्षा के लिए तैयार है।

श्लोगन लिखी पट्टिकाओं से दिया संदेश
अतिरिक्त पुलिस उपायुक्त सुनीता मीना ने कहा कि आज के समय में महिला सशक्तीकरण जरूरी है। इसके लिए यह जनजागृति अभियान शुरू किया गया है। इसी के तहत निर्भया स्क्वॉड घर-घर जाकर अलख जगा रही है। इस दौरान ट्रांसवैल फेयर सोसायटी की बालिकाओं ने बड़ी चौपड़ एवं गौरव टॉवर पर नुक्कड़ नाटक का आयोजन किया। निर्भया स्क्वॉड एवं सोसायटी की बालिकाओं ने श्लोगन लिखे पोस्टर के जरिए जागरूकता का संदेश दिया।

Amit Pareek Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned