राज्य में लौट रहे श्रमिकों को भी दिया जायेगा मनरेगा में रोजगार: पायलट

राज्य सरकार ( Rajasthan Government ) लॉकडाउन ( Lockdown ) के दौरान राज्य में लौट रहे श्रमिकों ( Migrants workers ) को मनरेगा में रोजगार उपलब्ध करवाएगी। उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट (Deputy Chief Minister Sachin Pilot) ने इस बारे में विभागीय अधिकारियों को निर्देश दिए हैं।

By: Ashish

Published: 12 May 2020, 09:44 PM IST

जयपुर

MNREGA : राज्य सरकार ( Rajasthan Government ) लॉकडाउन ( Lockdown ) के दौरान राज्य में लौट रहे श्रमिकों ( Migrants workers ) को मनरेगा में रोजगार उपलब्ध करवाएगी। उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट (Deputy Chief Minister Sachin Pilot) ने इस बारे में विभागीय अधिकारियों को निर्देश दिए हैं। पायलट ने कहा है कि कोरोना महामारी के चलते जारी लॉकडाउन के कारण विभिन्न राज्यों से प्रदेश में लौट रहे लाखों श्रमिकों को भी ग्रामीण क्षेत्रों में उनकी ग्राम पंचायतों में मनरेगा योजना के तहत रोजगार उपलब्ध करवाया जाए।

पायलट ने बताया कि इसके लिए प्रदेशभर में विशेष अभियान चलाकर मनरेगा में काम करने के इच्छुक प्रवासी श्रमिकों से रोजगार के लिए मांग पत्र ‘‘प्रपत्र-6‘‘ भरवाकर जाएगा। इस प्रपत्र के आधार पर उन्हें रोजगार उपलब्ध करवाया जाएगा। साथ ही जरूरत के मुताबिक प्रवासी श्रमिकों के नए जॉब-कार्ड भी जारी किए जाएंगे।
पायलट ने बताया कि वर्तमान में प्रदेश में 25 लाख से अधिक लोगों को मनरेगा के तहत रोजगार उपलब्ध करवाकर राजस्थान देश में पहले स्थान पर हैं। उन्होंने बताया कि लॉकडाउन के कारण रोजगार के अभाव में विभिन्न राज्यों से प्रदेश में लौटे श्रमिकों को मनरेगा के तहत रोजगार उपलब्ध करवाकर उन्हें आर्थिक सम्बल प्रदान किया जाएगा।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned