मां के अवैध संबंधों को लेकर खफा था बेटा, वारदात की रात देखा था आपत्तिजनक स्थिति में

लिव इन रिलेशन में रह रहे महिला व उसके प्रेमी आयुर्वेद चिकित्सक की हत्या के मामले में आरोपी मृतका का बेटा वारदात के बाद से फरार है।

By: santosh

Published: 11 Jan 2021, 10:34 AM IST

जयपुर / कोटपूतली। खटाना मार्केट के सामने शिव कॉलोनी में लिव इन रिलेशन में रह रहे महिला व उसके प्रेमी आयुर्वेद चिकित्सक की हत्या के मामले में आरोपी मृतका का बेटा वारदात के बाद से फरार है। उसकी तलाश में पिछले दो दिन में कई ठिकानों पर दबिश दी लेकिन अभी उसका कोई सुराग नहीं लगा। पुलिस को अब तक मिली जानकारी के अनुसार मृतका के बेटे पंकज ने ही दोनों की गोली मारकर कर हत्या की है।

पुलिस जांच मे कई चौंकाने वाले तथ्य सामने आए हैं। आरोपी बेटे को मां व चिकित्सक से साथ में रहने की जानकारी थी। लेकिन वारदात की रात इनको आपत्तिजनक स्थिति में देखने के बाद किसी बात पर उसने पिस्टल से दोनों पर फायर कर दिया। इस दौरान एक फायर मिस होने की भी जानकारी मिली है। उसने इसकी सूचना सबसे पहले अपनी बहन खुशबू को दी और अपनी मौसी मनीषा को वाट्सएप पर इसकी सूचना सुबह दे दी थी। लेकिन उसने मैसेज सुबह 9 बजे देखा और पुलिस को जानकारी दी।

आरोपी का फोन वारदात के बाद से ही बंद आ रहा है। गौरतलब है कि बानसूर तहसील की ढाणी धोली वाली निवासी मातादीन सिंह शेखावत और बूढवाल निवासी सुमन पिछले दो वर्षों से शिव कॉलोनी स्थित मकान में लिव इन रिलेशनशिप में रह रहे थे। इनके शव शनिवार सुबह कमरे में मिले थे। सुमन कई वर्षों से अपने पति से अलग इस मकान में रह रही थी, इसके यहां पिछले दो वर्ष से मातादीन शेखावत का आना जाना था।

आरोपी बेटा रखता था पिस्टल
फरार आरोपी मृतका का बेटा पंकज आपराधिक प्रवृति का है। वह हमेशा अपने साथ पिस्टल रखता। उसने वारदात से पहले घर में हवाई फायर भी किया था। यह भिवानी की कालू गैंग से जुड़ा हुआ है। इस गैंग के खिलाफ भिवानी सहित आसपास के थानों में कई मामले दर्ज हैं। कालू अभी जेल में है। आरोपी बेटे का भिवानी आना जाना रहता था। वह लम्बे समय तक भिवानी रहा था। वह पांच महिने पहले ही यहां आया था। पुलिस ने एक टीम भिवानी भी भेजी है।

पति से अलग रह रही थी मृतका
मृतका सुमन इसकी बहन मनीषा की शादी 1998 में एक ही घर में बूढवाल थाना नांगल चौधरी हरियाणा निवासी राजेश चोधरी व मनोज चौधरी के साथ हुई थी। इनका पीहर ग्राम भांकरी में है। इनके पिता वहां के सरपंच रहे है। जबकि मनोज चौधरी अभी बूढवाल के सरपंच है। शादी के कुछ वर्षो बाद से ही दोनो बहिने अपने पति से अलग हो गई थी। इनमें सुमन यहां मकान बना कर रहने लग गई। जबकि छोटी बहन नीमराणा में रहने लग गई।

इनका कहना है.......
- दोहरे हत्याकण्ड के मामले अब तक हुई पूछताछ और जानकारी के अनुसार यह बात सामने आई है कि बेटे पंकज ने ही मां व उसके प्रेमी की हत्या की है। इसकी तलाश के लिए टीम गठित कर इनको अलग अलग स्थानों पर भेजा गया है। कई जगह दबिश भी दी गई है। लेकिन अभी आरोपी का सुराग नहीं लगा है।
दिनेश यादव, उप अधीक्षक कोटपूतली

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned