राजधानी में जीका वायरस के प्रकोप को लेकर कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष सचिन पायलट ने सरकार पर लगाए गंभीर आरोप

राजधानी में जीका वायरस के प्रकोप को लेकर कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष सचिन पायलट ने सरकार पर लगाए गंभीर आरोप

abdul bari | Publish: Oct, 13 2018 06:41:59 PM (IST) Jaipur, Rajasthan, India

https://www.patrika.com/rajasthan-news/

जयपुर।

प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष सचिन पायलट ने राजधानी में जीका वायरस के बढ़ते प्रकोप को लेकर कहा है कि राज्य सरकार एक बार फिर जानलेवा बीमारी को नियंत्रित करने में नाकाम साबित हुई है। वायरस संक्रमित लोगों की संख्या का लगातार बढऩा चिंताजनक है। हर स्तर पर लापरवाही के कारण इसे नियंत्रित नहीं किया जा सका है।

उन्होंने कहा कि यह संक्रमण मुख्य रूप से मच्छर के काटने से फैलता है। ऐसे में मानसून के बाद जो सतर्कता बरती जानी चाहिए थी, उसे पूरा करने में चिकित्सा विभाग व नगर निगम ने लापरवाही बरती है। उन्होंने कहा कि हाल ही में मुख्यमंत्री की ओर से द्रव्यवती परियोजना के अधूरे कार्य का लोकार्पण कर वाहवाही लूटने का प्रयास किया गया, परन्तु वास्तविकता यह है कि उक्त परियोजना में एक भी एसटीपी का काम पूरा नहीं हुआ है, जिसके कारण अशोधित जल बह रहा है जो मच्छरों के पनपने के लिए अनुकूल वातावरण प्रदान करता है।

उन्होंने कहा कि जीका वायरस से फैलने वाली जानलेवा बीमारी अगर अनियंत्रित हो गई तो यह माहमारी का रूप ले सकती है। उन्होंने कहा कि चिकित्सा विभाग व नगर निगम इस काम में पूरी तरह विफल रहे हैं। जिस तत्परता के साथ फॉगिंग की जानी चाहिए थी और अन्य कीटनाशक का छिड़काव किया जाना था, उसमें घोर लारवाही बरती गई है। गत पौने पांच वर्षों में प्रदेश में चिकित्सा विभाग की लापरवाही का ही परिणाम है कि स्वाइन फ्लू, डेगूं जैसी बीमारियों के कारण अनेक लोगों की मृत्यु हुई है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned