राजस्थान: विधायक के ‘करोड़पति’ पुत्र-पुत्री चुनाव मैदान में, प्रचार में झोंक रखी पूरी ताकत

जिला परिषद् चुनाव: विधायक के ‘करोड़पति’ पुत्र-पुत्री चुनाव मैदान में, प्रचार में सभी ने झोंक रखी पूरी ताकत

 

By: nakul

Published: 17 Nov 2020, 12:13 PM IST

जयपुर।

प्रदेश में हो रहे पंचायत चुनाव में करोड़पति प्रत्याशी भी अपनी किस्मत आजमा रहे हैं। जैसलमेर जिले में जिला परिषद् सदस्यों के चुनाव में सबसे अधिक संपत्ति के साथ कांग्रेस प्रत्याशी हरीश धनदेव चुनाव मैदान में हैं। नामांकन के दौरान उनके 10 करोड़ की संपत्ति की ब्यौरा पेश करने के बाद से वे चर्चाओं में बने हुए हैं। धनदेव जैसलमेर विधायक रूपाराम मेघवाल के पुत्र हैं।

वहीं करोड़पति प्रत्याशियों की इस फहरिस्त में विधायक पुत्री अंजना मेघवाल भी शामिल हैं। उन्होंने अपनी घोषित संपत्ति में दो करोड़ 48 लाख 83 हज़ार रूपए की संपत्ति बताई है। अंजना पूर्व में जिला प्रमुख भी रह चुकीं हैं।

जिला परिषद् चुनाव: विधायक के ‘करोड़पति’ पुत्र-पुत्री चुनाव मैदान में, प्रचार में सभी ने झोंक रखी पूरी ताकत

अंजना की जीत लगभग तय
करोड़पति प्रत्याशी की सूची में शामिल अंजना मेघवाल जैसलमेर जिला परिषद् के वार्ड तीन प्रत्याशी हैं। भाजपा ने यहाँ से हरिया को टिकट थमाकर चुनाव मैदान में उतारा था लेकिन नामांकन जांच में उसे खारिज कर दिया गया। ऐसे में यहाँ अब अंजना के सामने अब निर्दलीय प्रत्याशी ही शेष रह गए हैं। वे पूर्व जिला प्रमुख हैं और क्षेत्र में उनकी पकड़ भी मजबूत बताई जाती है। ऐसे में यहाँ से उनका जीतना लगभग तय माना जा रहा है। अंजना इस बार भी जिला प्रमुख के लिए प्रबल दावेदार मानी जा रही हैं।

पिता लगे पुत्र के प्रचार में
विधायक रूपाराम इन दिनों अपने पुत्र हरीश धनदेव सहित अन्य कांग्रेस प्रत्याशियों के समर्थन में प्रचार कर रहे हैं। वोट अपील करने के लिए संपर्क सभाओं का आयोजन हो रहा है। रूपाराम के लिए अपने पुत्र को जिताना प्रतिष्ठा का सवाल भी बना हुआ है।

विधायक कर रहे जीत का दावा
जैसलमेर विधायक रूपाराम धनदेव ने दावा किया कि पंचायतीराज संस्थाओं के चुनाव में कांग्रेस पार्टी के सामने विपक्षी भाजपा कहीं चुनौती देने की स्थिति में नहीं है। ऐसे में कांग्रेस पार्टी जिला प्रमुख और पंचायत समितियों में प्रधान पदों पर जीत हासिल करने की दिशा में आगे बढ़ रही है।

पुत्री अंजना प्रमुख पद की दावेदार
विधायक ने साफ किया है कि उनका पुत्र या परिवार का कोई सदस्य प्रधान पद का दावेदार नहीं है। वहीं पुत्री पूर्व जिला प्रमुख अंजना मेघवाल की प्रमुख पद के लिए दावेदारी को स्वीकार किया है। हालांकि उन्होंने ये भी कहा है कि जिला प्रमुख व प्रधान पदों पर अंतिम फैसला कांग्रेस पार्टी ही करेगी। जिसका ज्यादा जनसमर्थन होगा वही प्रमुख व प्रधान चुना जाएगा।

nakul Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned