क्रिकेट में अब नहीं दिखेगी ये टीम... आईसीसी ने खत्म की मान्यता

क्रिकेट में अब नहीं दिखेगी ये टीम... आईसीसी ने खत्म की मान्यता

satish sharma | Updated: 19 Jul 2019, 07:02:58 PM (IST) Jaipur, Jaipur, Rajasthan, India

अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (icc) ने जिम्बाब्वे क्रिकेट (zimbabwe cricket) को तुरंत प्रभाव से निलंबित (suspend) कर दिया जिससे देश के सभी क्रिकेटरों का अस्तित्व भी एक झटके में समाप्त हो गया है। जिम्बाब्वे को जनवरी 2020 में भारत (team india) का दौरा करना था।

Harare zimbabwe। अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (icc) ने सरकार के दखल का हवाला देते हुये जिम्बाब्वे क्रिकेट (zimbabwe cicket) को तुरंत प्रभाव से निलंबित कर दिया जिससे देश के सभी क्रिकेटरों का अस्तित्व भी एक झटके में समाप्त हो गया है। आईसीसी का यह फैसला तुरंत प्रभाव से लागू हो गया है जिससे उसके द्वारा जिम्बाब्वे क्रिकेट बोर्ड को दी जाने वाली सारी (financial) वित्तीय मदद भी रोक दी गयी है। जिम्बाब्वे की सभी प्रतिनिधि टीमों को अब आईसीसी (icc) के किसी भी टूर्नामेंट में हिस्सा लेने की अनुमति नहीं होगी।
टी-२० विश्वकप क्वालिफायर (worldcup qualifier) में भी नहीं ले सकेंगे हिस्सा
वैश्विक संस्था के इस फैसले के बाद जिम्बाब्वे की महिला क्रिकेट (women cricket) टीम का अगस्त में होने वाले ट््वंटी 20 विश्वकप क्वालिफायर और अक्टूबर में पुरूष ट््वंटी 20 विश्वकप क्वालिफायर में हिस्सा लेना भी लगभग नामुमकिन हो गया है। इस सप्ताह लंदन (london) में कई दौर की बैठकों के बाद आईसीसी बोर्ड ने सर्वसम्मति से यह फैसला लिया है।
आईसीसी की इस धारा का दोषी पाया गया
जिम्बाब्वे क्रिकेट (zimbabwe cicket) को आईसीसी के संविधान की धारा 2.4 (सी) और (डी) का उल्लंघन करने का दोषी पाया गया है जून में उसके स्पोट््र्स रिक्रिएशन कमिशन (src) के गठन और अन्य गतिविधियों में सरकार का हस्तक्षेप शामिल है।
ये बोले आईसीसी चीफ (icc chairman)
आईसीसी के चेयरमैन शशांक मनोहर ने इस फैसले को लेकर कहा, हम किसी भी सदस्य की मान्यता रद्द (suspend) करने के फैसले को हल्के में नहीं लेते। लेकिन हमारा लक्ष्य इस खेल को सरकार के हस्तक्षेप से अलग रखना है। जिम्बाब्वे क्रिकेट में जो हुआ वह आईसीसी के संविधान उल्लंघन का गंभीर मामला है और हम इसे बिना किसी कार्रवाई के जाने नहीं दे सकते हैं।

फैसले से निराश जिम्बाब्वे के क्रिकेटर्स (cricketers)
'कैसे एक फैसले ने एक टीम को अजनबी बना दिया. कैसे एक फैसले ने इतने सारे लोगों को बेरोजगार कर दिया. कैसे एक फैसला इतने सारे परिवारों को प्रभावित करता है. कैसे एक फैसले ने इतने सारे करियर खराब कर दिए, निश्चित रूप से मैं अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट को इस तरह से अलविदा नहीं करना चाहता था.
- सिकंदर रजा
'मैंने खिलाडिय़ों और तकनीकी स्टाफ को हाल में दौरे के अंत में अपने फैसले के बारे में बता दिया था. मैं तुरंत प्रभाव से जिम्बाब्वे क्रिकेट के सभी प्रारूपों में संन्यास लेने के अपने फैसले की घोषणा अधिकारिक रूप से करना चाहता था. यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि मौजूदा हालात में इस तरह जाना पड़ रहा है जो मेरे नियंत्रण में नहीं हैं. लेकिन मैंने एक नई दिशा में कदम उठाने का फैसला किया है.
- सोलोमोन मायर, ऑल राउंडर

 

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned