शक्तिस्थल के सामने लहराएगा 100 फीट का तिरंगा

- नगरपालिका ने शुरू किया कार्य, 15 लाख रुपए होंगे खर्च

By: Deepak Vyas

Updated: 09 Jun 2021, 10:18 AM IST

पोकरण. परमाणु परीक्षण के बाद विश्व मानचित्र पर उभरे सरहदी जिले जैसलमेर के परमाणु नगरी पोकरण के वाशिंदों के दिलों में देशप्रेम की भावना को जागृत करने के लिए नगरपालिका की ओर से 100 फीट ऊंचा तिरंगा लगाने का कार्य शुरू किया गया है। परमाणु परीक्षण की याद में जैसलमेर रोड पर बनाए गए शक्तिस्थल के आगे शान के साथ यह तिरंगा लहराएगा। तिरंगे के साथ हाईमास्ट व फ्लड लाइटें भी लगाई जा रही है। इस कार्य पर नगरपालिका की ओर से 15 लाख रुपए की राशि खर्च की जाएगी। गौरतलब है कि 1998 में हुए परमाणु परीक्षण के बाद पोकरण को नई पहचान मिली। इसके बाद पोकरण में परमाणु परीक्षण की याद में शक्तिस्थल का निर्माण करवाया गया। हालांकि समय के साथ शक्तिस्थल योजना कारगार साबित नहीं हुई तथा आयुद्ध गैलेरी, मॉडल व भवन बंद पड़ा है, लेकिन देश विदेश से आने वाले पर्यटकों व लोगों को परमाणु परीक्षण की याद दिलाने के लिए अब मुख्य मार्ग पर तिरंगा लगाया जा रहा है। जिसका कार्य भी शुरू हो चुका है। शीघ्र ही इस कार्य को पूर्ण कर लिया जाएगा। यह तिरंगा 24 घंटे लहराता रहे, इसके लिए हाईमास्ट व फ्लड लाइटें भी लगाई जा रही है।
15 लाख रुपए की राशि होगी खर्च
नगरपालिका की ओर से गत दिनों निविदाएं जारी कर जैसलमेर रोड पर शक्तिस्थल तिराहे पर हाईमास्ट लाइटें लगाने के साथ तिरंगा लगाने की पहल की गई। तिरंगे की ऊंचाई 100 फीट होगी। जिससे दूर से ही तिरंगा नजर आएगा। विशेष रूप से रात्रि में आकर्षण बढ़ाने के लिए तिरंगे के लिए फ्लड लाइटें लगाई जा रही है। इसके साथ ही शक्तिस्थल तिराहे पर एक बड़ी हाईमास्ट लाइट भी लगाई जाएगी। इन कार्यों पर 15 लाख रुपए की राशि खर्च की जाएगी।
शुरू हुआ कार्य
नगरपालिका के कनिष्ठ अभियंता अंजुमनअली अंसारी के निर्देशन में मंगलवार को कार्य शुरू कर दिया गया है। स्वास्तिका कंस्ट्रक्शन कंपनी की ओर से तिरंगे व लाइटों के लिए सामान मंगवा दिया गया है। मंगलवार को सामान पोकरण पहुंचने के साथ कार्मिकों ने कार्य शुरू कर दिया है। इस कार्य को आगामी दिनों में शीघ्र ही पूर्ण कर लिया जाएगा। जिसके बाद दूधिया रोशनी से तिरंगा व शक्तिस्थल चमक उठेगा।
दूर से ही होगी पहचान
कस्बे में शक्तिस्थल के आगे 100 फीट ऊंचा तिरंगा लहराने से दूर से ही पोकरण के आने का आभास होगा। यह तिरंगा काफी दूूर तक नजर आएगा। गौरतलब है कि स्वर्णनगरी जैसलमेर जाने वाले पर्यटक पोकरण से होकर गुजरते है। इसके अलावा बीकानेर व जोधपुर के राष्ट्रीय राजमार्ग भी पोकरण से निकलते है। ऐसे में पर्यटकों को यह तिरंगा अपनी ओर आकर्षित करेगा।

Deepak Vyas Bureau Incharge
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned