scriptA shower of gifts for the district from Gehlot's box... | गहलोत के पिटारे से जिले के लिए सौगातों की बौछार... | Patrika News

गहलोत के पिटारे से जिले के लिए सौगातों की बौछार...

पर्यटन का होगा विकास, चिकित्सा का ढांचा मजबूत बनेगा
- जैसलमेर में नर्सिंग महाविद्यालय की घोषणा
- पोकरण में कृषि महाविद्यालय होगा स्थापित

जैसलमेर

Updated: February 23, 2022 09:03:01 pm

जैसलमेर। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने प्रदेश के लिए वित्त वर्ष 2022-23 के लिए बजट पेश करते समय सीमावर्ती जैसलमेर जिले का भरपूर ख्याल रखा है। इस बजट के जरिए उन्होंने जिले को चिकित्सा, पर्यटन, ग्रामीण विकास, सड़कों के तंत्र के सुदृढ़ीकरण, स्कूली व कॉलेज शिक्षा के प्रसार, नहरी क्षेत्र में सिंचाई की सुविधा से लेकर सभी क्षेत्रों में कुछ न कुछ सौगात देने का काम किया है। यही कारण है कि बुधवार सुबह 11 से करीब दो बजे तक तीन घंटों के बजट भाषण को सुनने और इस बारे में जानकारी लेने में लोगों ने खासी दिलचस्पी दिखाई। बजट के प्रावधानों की जैसे-जैसे जानकारी लोगों तक पहुंची, उनके चेहरों पर मुस्कान फैल गई। हालांकि पूर्व के वर्षों में बजट घोषणाओं का समयबद्ध क्रियान्वयन नहीं होने की नजीरें भी लोगों के सामने है। यही कारण है कि एक वर्ग ऐसा भी है, जिन्होंने कहा घोषणाएं तो बहुत अच्छी की लेकिन यथार्थ के धरातल पर वे कितनी खरी उतरेंगी, इसे देखना होगा।
जिले को मिली खास सौगातें -
जैसलमेर में मेडिकल कॉलेज की स्थापना की दिशा में कदम आगे बढ़ा दिया गया है। इसके लिए मुख्यमंत्री ने 115 करोड़ रुपए का प्रावधान किया है तथा बेड की संख्या 300 से बढ़ाकर 345 किए जाने की घोषणा की।
राज्य में पर्यटन के पिछले साल जारी 500 करोड़ के पैकेज को इस बार बढ़ाकर एक हजार करोड़ कर दिया गया है। जिले में साहसिक पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए भी कदम उठाए जाएंगे।
जैसलमेर मुख्यालय पर जीएनएम ट्रेनिंग महाविद्यालय खोले जाने की मांग को भी मुख्यमंत्री ने पूरा कर दिया है।
भणियाणा में औद्योगिक क्षेत्र का विकास किया जाएगा।
जिले के पोकरण में कृषि महाविद्यालय खोलने की घोषणा की गई है।
सम ब्लॉक में अल्पसंख्यक बालक-बालिका आवासीय विद्यालय भवनों का निर्माण करवाया जाएगा।
ऐसे ही जैसलमेर में जनजाति छात्रावास खोला जाएगा।
पोकरण में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक कार्यालय की स्थापना की जाएगी।
फलसूण्ड और रामगढ़ में गत वर्ष बनाई गई उप तहसील को तहसील के तौर पर क्रमोन्नत किया गया है।
नहरी क्षेत्र नाचना व मोहनगढ़ में उप तहसील कार्यालय खोले जाने की भी बड़ी घोषणा की गई है।
जैसलमेर के छत्रैल गांव में 132 केवी जीएसएस की स्थापना की जाएगी।
पोकरण-फलसूंड पेयजल परियोजना पैकेज 3 (अ) के लिए 211 करोड़ 85 लाख का प्रावधान किया गया।
ऐसे ही पोकरण से राजमथाई तक वाया थाट-गुड्डी-दूधिया-जालोड़ा-पोकरणा, पोकरण से झिनझिनयाली, सांकड़ा, भैंसड़ा, डांगरी व फतेहगढ़ तथा जैसलमेर सम रोड से 112 आरडी एसबीएस वाया लौद्रवा, रूपसी, बरमसर, देवा, नेहड़ाई तक सड़क मरम्मत और उन्नयन कार्य के लिए 96 करोड़ 56 लाख रुपए का प्रावधान किया गया।
जैसलमेर नहरी क्षेत्र में जहां पक्के खाले नष्ट हो चुके हैं, वहां लगभग एक लाख हैक्टेयर क्षेत्र में 600 करोड़ रुपए की लागत से स्प्रिंकलर से सिंचाई सुविधा विकसित की जाएगी।
चारणवाला शाखा की नहरों का चरणबद्ध रूप से 102 करोड़ रुपए की लागत से जीर्णोद्धार किया जाएगा। इससे बीकानेर व जैसलमेर जिले का 97 हजार हैक्टेयर क्षेत्र लाभान्वित होगा।
गहलोत के पिटारे से जिले के लिए सौगातों की बौछार...
गहलोत के पिटारे से जिले के लिए सौगातों की बौछार...
बजट पर कांग्रेस में उत्साह, एक दूसरे का मुंह मीठा करवाया
जैसलमेर। राजस्थान का आम बजट पेश किए जाने के बाद जैसलमेर में कांगे्रेस नेताओं और कार्यकर्ताओं ने खुशी का इजहार करते हुए एक दूसरे का मुंह मीठा करवाया और बधाई दी। नगरपरिषद सभापति हरिवल्लभ कल्ला के शिव मार्ग स्थित कार्यालय में पार्टीजनों ने खुशियां मनाई। कल्ला ने सभी को शानदार बजट के लिए बधाई दी। पूर्व कांग्रेस जिलाध्यक्ष गोविंद भार्गव, यूथ कांग्रेस प्रदेश प्रवक्ता विकास व्यास, पूर्व पार्षद मेघराजसिंह बारू, अर्जुन दैया रामगढ़, ब्रजरतन छंगाणी, राजकुमार भाटिया आदि ने भी खुशी का इजहार किया। कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने कांग्रेस पार्टी, सोनिया गांधी, राहुल गांधी और मुख्यमंत्री अशोक गहलोत जिंदाबाद के नारे भी लगाए।

किसने क्या कहा -
सभी वर्गों का रखा ख्याल
मुख्यमंत्री ने आम बजट में सभी वर्गों का पूरा ख्याल रखा है। किसी भी क्षेत्र को अछूता नहीं रखा और एक बेमिसाल बजट पेश किया है। इससे राजस्थान के सभी वर्गों में खुशी का माहौल है। जैसलमेर जिले को कई सौगातें इस बजट के माध्यम से दी गई हैं। राज्य कर्मचारियों को पेंशन दिए जाने का निर्णय ऐतिहासिक है।
- शाले मोहम्मद, पोकरण विधायक और केबिनेट मंत्री, राजस्थान सरकार
अपेक्षाओं से बढ़कर दिया
राज्य के मुखिया ने बजट में जैसलमेर जिले को तो अपेक्षाओं से भी बढ़कर सौगातें दी हैं। दो साल कोरोना महामारी के हालात से निपटने के बाद इससे शानदार बजट दिया ही नहीं जा सकता था। सरकारी कर्मचारियों से लेकर किसानों, युवाओं, पत्रकारों आदि सभी वर्गों के हितों का ध्यान रखा गया है।
- रूपाराम धनदेव, जैसलमेर विधायक
एक बार फिर सब्जबाग ही दिखाए
मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने बजट में शब्दों की जादूगरी ही दिखाई है। धरातल पर पूर्व के बजटों में उनकी घोषणाएं भी नहीं उतर पाई। ऐसे में यह आम बजट प्रदेशवासियों को सब्जबाग दिखाने का प्रयास मात्र है। लेकिन लोग उनके झांसे में नहीं आएंगे।
- प्रतापसिंह सोलंकी, जिला प्रमुख जैसलमेर
सभी क्षेत्रों व वर्गों के हित में बजट
राजस्थान के लिए इससे सार्थक बजट नहीं आ सकता था। सभी क्षेत्रों और वर्गों के हितों को ध्यान में रखकर संवेदनशील मुख्यमंत्री ने बजट प्रस्तुत किया है। बजट के बाद राज्य भर में खुशी का जो माहौल है, वह अपने आप में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की लोकप्रियता का प्रमाण है।
- हरिवल्लभ कल्ला, सभापति, नगरपरिषद जैसलमेर
बड़ी घोषणाएं, क्रियान्विती नहीं
प्रतिवर्ष कांग्रेस सरकार बड़ी-बड़ी घोषणाएं करती हैं, लेकिन उनकी क्रियान्विती नहीं हो रही है। तीन बार मुख्यमंत्री रहे अशोक गहलोत को पश्चिमी राजस्थान में जनसंख्या को आधार नहीं मानकर भौगोलिक परिस्थितियों को देखते हुए बालोतरा, फलोदी व पोकरण को जिला बनाना चाहिए था।
- महंत प्रतापपुरी, भाजपा प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य
थोथी घोषणाओं का बजट
राज्य की कांग्रेस सरकार ने थोथी घोषणाओं से भरा बजट पेश किया है। सीमावर्ती क्षेत्र केे लिए कोई विशेष घोषणा नहीं है। अलग से कृषि बजट पेश करने का नाम कर किसानों के हित में कोई घोषणा नहीं की गई है। कर्ज माफी की तरह कई सारी घोषणाओं का कोई औचित्य नहीं है, जब तक उनकी क्रियान्विती नहीं की जाए।
- शैतानसिंह राठौड़, पूर्व विधायक पोकरण
झूठ का पुलिंदा
मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की ओर से पेश बजट झूठ का पुलिंदा है। इस बजट से जैसलमेर की जनता को कुछ नही मिला जबकि पर्यटन के क्षेत्र में यह जिला पहले पायदान पर है। दूसरी ओर किसानों को कर्ज माफी का वायदा किया गया था, वहआज तक पूरा नहीं किया गया है। पेट्रोल-डीजल पर कुछ भी राहत नहीं दी गई है।
- चन्द्रप्रकाश शारदा, भाजपा जिलाध्यक्ष
ऐतिहासिक है बजट
राजस्थान में आज ऐतिहासिक बजट पेश किया गया है। चिरंजीवी योजना में ऑपरेशन की सीमा 5 लाख से बढ़ाकर 10 लाख की गई है। मनरेगा में साल में 100 से बढ़ाकर अब 125 दिन रोजगार दिया जाएगा। 2004 से सेवारत कर्मचारियों को पेंशन दिए जाने से उन्हें बड़ी राहत मिली है।
- उम्मेदसिंह तंवर, कांग्रेस जिलाध्यक्ष
हर वर्ग खुश
वर्ष 2022-23 के लिए मुख्यमंत्री की ओर से पेश किए गए ऐतिहासिक बजट से राजस्थान का प्रत्येक वर्ग खुश है और खुशियां मना रहा है। किसानों, युवाओं, महिलाओं, बुजुर्गों आदि को भरपूर राहत देने का काम किया गया है। जैसलमेर व पोकरण दोनों विधानसभा क्षेत्रों में अपूर्व कार्य किए गए हैं।
- अमरदीन फकीर, उपाध्यक्ष, प्रदेश युवा कांग्रेस
युवाओं को खुश किया
मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने एक साल में एक लाख सरकारी नौकरियां देने की घोषणा कर राज्य के युवा वर्ग का दिल जीत लिया है। इसके अलावा उन्होंने सभी वर्गों के हितों को ध्यान में रखकर बजटीय प्रावधान किए हैं।
- विकास व्यास, प्रवक्ता, प्रदेश युवा कांग्रेस
पूरी नहीं हुई उम्मीदें
इस बजट में विद्यार्थियों व बेरोजगारों के लिए अलग से विशेष प्रावधान की उम्मीद थी, लेकिन वह पूरी नहीं हुई है। विद्यार्थियों को सौगात नहीं मिली। भर्ती परीक्षाओं में धांधली रोकने के लिए कोई प्रावधान नहीं किया। महाविद्यालयों में रिक्त पदों को भरने के लिए नई भर्ती की घोषणा नहीं की है।
- हेमलता भाटी, महाविद्यालयी छात्रा, पोकरण
आमजन का रखा ख्याल
मुख्यमंत्री की ओर से पेश किए गए बजट में प्रत्येक वर्ग व आमजन का ध्यान रखा गया है। जैसलमेर व पोकरण क्षेत्र के लिए की गई घोषणाओं से लोगों को सुविधाएं मिलेगी। पानी, बिजली, चिकित्सा, शिक्षा, सड़क, कानून व्यवस्था सहित प्रत्येक विभाग की घोषणाएं आमजन के हित में है।
- मेघराज परिहार, कांग्रेस नेता
धरातल पर नहीं लागू
बजट की घोषणाएं पूरी तरह से थोथी है। तीन वर्षों में की गई एक भी घोषणा को धरातल पर लागू नहीं किया गया है। अर्थव्यवस्था को मजबूत करने के लिए भी कोई घोषणा नहीं की गई है। सस्ती लोकप्रियता के लिए लोगों को झुनझुना पकड़ाने की कोशिश की गई है।
- कंवराजसिंह चौहान, भाजपा नेता
जनता के लिए हितकारी
राजस्थान का आम बजट आमजन के लिए हितकारी है। महिलाओं को अचल सम्पत्ति दिलाने में यह अहम भूमिका निभाएगा। किसान, सरकारी कर्मचारी व मजदूर वर्ग के लिए कई हितकारी फैसले लिए गए हैं।
- प्रेमलता चौहान, जिलाध्यक्ष महिला कांग्रेस
गेमचेंजर बजट
कोरोना के कारण अर्थव्यवस्था पर छाए संकट के बीच मुख्यमंत्री ने राजस्थान के लिए जो बजट पेश किया है, वह गेमचेंजर साबित होगा। सभी वर्गों को आर्थिक मोर्चे पर खुश रहने का मौका बजट से मिला है तो आमजन को सुविधाएं भी मिलेंगी।
- चन्द्रशेखर थानवी, कांग्रेस नेता
उम्मीदों पर खरा उतरा बजट
राज्य सरकार का बजट किसानों और युवाओं की उम्मीदों पर खरा उतरा है। बजट में रीट 2022 भर्ती को जुलाई में करवाने की घोषणा बेरोजगार युवाओं के लिए अच्छी खबर है। साथ ही बेरोजगारो के लिए करीब 1 लाख रोजगार देने की घोषणा युवाओं के लिए काफी महत्वपूर्ण सिद्ध होगी।
- अमृत लाल बड़ल, लाइब्रेरी संचालक
विशेषज्ञों की राय -
वैट में दी राहत
मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने आम बजट में वैट के मामले में व्यापारी वर्ग को राहत दी है। एमनेस्टी योजना लाए जाने से लाभ मिलेगा। साथ ही समयसीमा में भी बढ़ोतरी की गई है। हालांकि अन्य जो प्रावधान किए गए हैं, उनके क्रियान्वयन पर संदेह बना हुआ है। वैसे बजट आमतौर पर अच्छा प्रतीत होता है।
- प्रमोद भाटिया, चार्टर्ड एकाउंटेंट
और भी उठाए जा सकते थे कदम
राज्य के बजट में मुख्यमंत्री ने एमनेस्टी स्कीम के तहत बकाया डिमांड में समय की छूट देकर संबंधित व्यापारियों को थोड़ा खुश किया है। इसके साथ ही यह भी सच है कि बजट पेश करते समय वे कई और कदम उठा सकते थे, जिनसे राज्य की अर्थव्यवस्था को सम्बल मिलता और रोजगार की संभावनाएं बढ़ती, वे नहीं उठाए गए।
- जेपी व्यास, चार्टर्ड एकाउंटेंट

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

17 जनवरी 2023 तक 4 राशियों पर रहेगी 'शनि' की कृपा दृष्टि, जानें क्या मिलेगा लाभज्योतिष अनुसार घर में इस यंत्र को लगाने से व्यापार-नौकरी में जबरदस्त तरक्की मिलने की है मान्यतासूर्य-मंगल बैक-टू-बैक बदलेंगे राशि, जानें किन राशि वालों की होगी चांदी ही चांदीससुराल को स्वर्ग बनाकर रखती हैं इन 3 नाम वाली लड़कियां, मां लक्ष्मी का मानी जाती हैं रूपबंद हो गए 1, 2, 5 और 10 रुपए के सिक्के, लोग परेशान, अब क्या करें'दिलजले' के लिए अजय देवगन नहीं ये थे पहली पसंद, एक्टर ने दाढ़ी कटवाने की शर्त पर छोड़ी थी फिल्ममेष से मीन तक ये 4 राशियां होती हैं सबसे भाग्यशाली, जानें इनके बारे में खास बातेंरत्न ज्योतिष: इस लग्न या राशि के लोगों के लिए वरदान साबित होता है मोती रत्न, चमक उठती है किस्मत

बड़ी खबरें

Gyanvapi Survey: सर्वे के दौरान कुएं में मिला शिवलिंग, हिन्दू पक्ष के वकील का दावाअसम में बाढ़ से 7 जिलों के लगभग 57 हजार लोग प्रभावित, बचाव कार्य में जुटी इंडियन एयरफोर्सराजस्थान में तपिश और लू बनी ‘संजीवनी’, हुआ ये बड़ा फायदाCNG Price Hike: एक साल में CNG में 69.60% की बढ़ोतरी, जानें आपके शहर की लेटेस्ट कीमतअब हवाई सफर होगा महंगा! Jet Fule की कीमतें बढ़ने से पड़ेगा असरसोनिया गांधी का ये अंदाज पंसद आया, वे मुस्कुराई तो सभी कांग्रेसी भी मुस्कुराए, देखे पूरा वीडियोमहिला बीड़ी मजदूरों ने कहा, हज़ार बीड़ी बनाने पर मिलते हैं सिर्फ  80 रुपये 80 वर्षीय मशहूर चित्रकार ने नाबालिग से 7 साल तक किया 'डिजिटल रेप', जानें क्या होता है Digital Rape
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.