पोकरण में लगातार चौथे दिन अलसुबह चली तेज आंधी, गिरी दीवारें

- कहीं जीएलआर, तो कहीं गिरी दीवारें

By: Deepak Vyas

Published: 02 Jun 2020, 08:30 PM IST

पोकरण. गत चार दिनों से क्षेत्र में चल रहा आंधी का दौर मंगलवार को भी जारी रहा। अलसुबह चार बजे बाद चली तेज आंधी के कारण जनजीवन अस्त व्यस्त हो गया। रविवार रात चली आंधी व बारिश के बाद सोमवार को दिनभर मौसम साफ रहा। मध्यरात्रि बाद मौसम बदला और आसमान में बादलों की आवाजाही शुरू हो गई। मंगलवार को अलसुबह करीब चार बजे तेज हवाओं के साथ आंधी चलने लगी। जिससे आसमान में चारों तरफ रेत के गुब्बार उडऩे लगे। आंधी की गति तेज होने के कारण कई जगह विद्युत तारें टूट गई और दुकानों के छप्पर उड़ गए। करीब आधे घंटे तक चली आंधी ने जनजीवन को अस्त व्यस्त कर दिया। कई जगहों पर विद्युत तारें टूट जाने तथा नगरीय जल योजना एमबी वेल की मुख्य तार टूट जाने के कारण सुबह 10 बजे तक कस्बे की विद्युत आपूर्ति भी बाधित रही।
पोकरण (आंचलिक). ग्रामीण क्षेत्रों में गत चार दिनों से तेज आंधी का दौर चल रहा है। जिससे जनजीवन अस्त व्यस्त हो रहा है। दो दिन पूर्व आंधी व बारिश के कारण क्षेत्र के दिधु गांव स्थित राइकों की ढाणी में जीएलआर क्षतिग्रस्त हो गई और सोमवार को सुबह चली तेज आंधी के कारण जीएलआर की छत भरभरा कर ढह गई। मूलराजसिंह भाटी अजासर ने बताया कि जीएलआर की छत गिर जाने के कारण पानी दुषित हो रहा है और ग्रामीणों को एक किमी दूर से पानी लेकर आना पड़ रहा है। जिससे उन्हें परेशानी हो रही है। उन्होंने जीएलआर की मरम्मत करवाने की मांग की है।
कजोई (पोकरण). क्षेत्र में चली तेज आंधी व तूफान के कारण जनजीवन अस्त व्यस्त हो गया। गत कुछ दिनों से क्षेत्र में आंधी व बारिश का दौर चल रहा है। आंधी के दौर से पूर्व जेतपुरा गांव की दर्जियों की ढाणी में देऊराम दर्जी की ओर से नए मकान का निर्माण करवाया गया था। तेज आंधी के कारण ईटें गिर गई और टिनशेड गिर गया। जिससे उन्हें आर्थिक नुकसान हुआ है। गनीमत रही कि आंधी व तूफान के समय परिवारजन पास स्थित कच्चे झोंपे में होने के कारण बड़ा हादसा नहीं हुआ।

Deepak Vyas Bureau Incharge
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned