Jaisalmer- एजेंट ने सांईकृपा सोसायटी पर 28.87 लाख हड़पने का लगाया आरोप, पुलिस कार्रवाई की मांग

चोरों के हौसले बुलंद, रात को महिला के पैरों से पायल निकालने की कोशिश!

- रीको क्षेत्र में चार जगह टूटे ताले,

 

By: jitendra changani

Published: 21 Sep 2017, 11:28 PM IST

पुलिस को मौके पर मिला मोबाइल व औजार, चोरों ने मजदूर का चुराया था मोबाइल

जैसलमेर . जिला मुख्यालय पर चोरों के हौसले लगातार बुलंद हो रहे हैं। बीती रात को रीको के शिल्पग्राम क्षेत्र में अज्ञात चोरों ने फैक्ट्रियों और रहवासी घरों के ताले तोड़ चोरी का प्रयास किया। लोगों के जाग जाने के कारण वे अंधेरे में भाग गए। गुरुवार सुबह पुलिस ने मौका मुआयना किया और संबंधित लोगों से आवश्यक जानकारियां ली। गनीमत रही कि चोर कहीं से कोई सामान चोरी कर नहीं ले जा सके।
लोग जगे तो दीवार फांद कर भागे
जानकारी के अनुसार चोरों ने घरों में सोई महिलाओं के पैरों से पायल खींचने की कोशिश की। इससे वे जाग गई और घरों के अन्य सदस्य भी उठ गए। ऐसे में चोर दीवार फांद कर भागने में सफल हो गए। प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार चोरी करने आए लोग दो या इससे अधिक थे। यह जानकारी भी मिली है कि घटनास्थल पर पुलिस को चोरी करने आए व्यक्ति का मोबाइल और चोरी करने के औजार मिले हैं। यह मोबाइल चोरों ने एक मजदूर का चुराया था। चोरों ने एक साथ चार से ज्यादा जगहों पर चोरी का प्रयास किया। शहर थानाधिकारी देरावरसिंह सोढ़ा के अनुसार चोरी का प्रयास करने वाले बाहरी तत्व हो सकते हैं। उन्होंने बताया कि पुलिस मामले की जांच कर रही है।

एजेंट ने सांईकृपा सोसायटी पर 28.87 लाख हड़पने का लगाया आरोप, पुलिस कार्रवाई की मांग
जैसलमेर सांईकृपा क्रेडिट को-ऑपरेटिव सोसायटी लि. जैसलमेर के खिलाफ अब एक महिला एजेंट ने पुलिस थाना में शिकायत दर्ज करवाकर सोसायटी के संचालकों पर विभिन्न लोगों के जमा करवाए गए 28.87 लाख रुपए को हड़पने का आरोप लगाया है। एजेंट रक्षा भाटिया ने इस संबंध में पुलिस कोतवाली के थानाधिकारी को शिकायत पेश की।
भाटिया ने बताया कि सांईकृपा सोसायटी में उनकी ओर से कुल 63 आवर्ती खातों में 12.16 लाख रुपए जमा करवाए गए वहीं अन्य लोगो ने 425 दिन की सावधि जमा योजना में भी पैसे जमा करवाए। इस तरह से उन्होंने सोसायटी में कुल 28 लाख 87 हजार 212 रुपए की मूल राशि जमा करवाई। भाटिया ने बताया कि जो खाते परिपक्वता अवधि पार कर चुके हैं, उन्हें सोसायटी की ओर से भुगतान नहीं किया गया है और अब तो सोसायटी के ताले लग गए हैं तथा संचालक सुरेंद्रसिंह भी गायब है। उन्होंने मांग की कि सोसायटी से जुड़े लोगों व उनके 2009 से 2017 तक जो भी संपत्तियां खरीदी गई हैं, उन्हें कुर्क कर लोगों की ओर से जमा करवाई गई राशि मय ब्याज लौटाने की मांग की। रक्षा ने सुरेंद्रसिंह की ओर से सोसायटी के विभिन्न बैंकों में खुलवाए गए खातों के दुरुपयोग का भी आरोप लगाया और सुरेंद्रसिंह के पासपोर्ट निरस्त करवाने की मांग की।

jitendra changani Desk/Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned