JAISALMER NEWS- भारत-पाक बॉर्डर पर पहुंचे देश के अय्यार, जवानों के साथ किया कुछ ऐसा, फिर तनोट मंदिर में...

jitendra changani

Publish: Jan, 14 2018 09:57:03 PM (IST)

Jaisalmer, Rajasthan, India

Rajasthan patrika

1/3

तनोट माता मंदिर में दर्शन करने पहुंचे फिल्म ‘अय्यारी’ के कलाकार।

जैसलमेर . आगामी दिनों में प्रदर्शन के लिए तैयार नीरज पांडे निर्देशित फिल्म ‘अय्यारी’ की स्टार कास्ट शनिवार को अंतरराष्ट्रीय सीमा क्षेत्र का अवलोकन करने पहुंची। फिल्म के निर्देशक नीरज पांडे के साथ विख्यात कलाकार मनोज वाजपेयी, सिद्धार्थ मल्होत्रा, रकुल प्रीतसिंह, पूजा चोपड़ा और अन्य को सीमा सुरक्षा बल के उपमहानिरीक्षक अमित लोढ़ा ने सीमा क्षेत्र का भ्रमण करवाया। फिल्म के कलाकारों ने सीमावर्ती क्षेत्र में अवस्थित चमत्कारी तनोटराय मंदिर में भी दर्शन किए और पूजा-अर्चना की। उल्लेखनीय है कि फिल्म टीम गत गुरुवार शाम को जैसलमेर पहुंची। शुक्रवार को उन्होंने जिला मुख्यालय स्थित बल की 119वीं वाहिनी परिसर में रहकर जवानों की दिनचर्या में भागीदारी की तथा शाम के समय सांस्कृतिक प्रस्तुतियां दी और जवानों के साथ उनके परिवारजनों के साथ वक्त बिताया। यहां यह उल्लेखनीय है कि सिद्धार्थ मल्होत्रा ने शुक्रवार को अपना जन्मदिन भी जवानों के साथ मनाया।
सीमा सुरक्षा व्यवस्था की ली जानकारी
‘अय्यारी’ की टीम ने शनिवार सुबह सीमा क्षेत्र का रुख किया। उन्होंने तनोटराय देवी के मंदिर में दर्शन किए और मंदिर के इतिहास के बारे में रुचिपूर्वक जानकारी ली। उन्होंने तनोट में ही सीसुब की ओर से लगाए गए शामियाने में भोजन किया तथा कई प्रशंसकों से भी मिले। यहां उन्होंने जवानों तथा अधिकारियों के साथ चर्चा की। बाद में वे सीमा चौकी पहुंचे। अंतरराष्ट्रीय सीमा पर गश्त और निगरानी में जुटे जवानों से उनकी दिनचर्या के संबंध में बातचीत की। उन्होंने सीमापार की गतिविधियों पर नजर रखने के लिए जवानों की ओर से इस्तेमाल किए जाने वाले यंत्रों के साथ सुरक्षा के लिए रखे हथियारों के बारे में दिलचस्पी के साथ जानकारी ली।
जवानों की हौसला अफजाई
फिल्म के कलाकारों ने सीमा सुरक्षा बल के जवानों तथा अधिकारियों से कहा कि, वे सही मायनों में देश के लिए जी रहे हैं। उनकी मुस्तैदी के कारण ही देश की सीमाएं सुरक्षित हैं और सारे देशवासी चैन से जीवन जीते हैं। फिल्मी सितारों ने सीसुब के जवानों को रीयल हीरो बताया तथा जैसलमेर जैसे दुर्गम रेगिस्तानी क्षेत्र में प्राण-पण से ड्यूटी निभाने के लिए उनकी पीठ थपथपाई। फिल्म टीम ने सीसुब जवानों तथा उनके परिवारजनों के साथ शाम के समय लोहड़ी का पर्व भी हर्षपूर्ण माहौल में मनाया। उन्होंने कहा कि यह लोहड़ी उन्हें हमेशा याद रहेगी।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned