आशा सहयोगिनियां मातृ एवं शिशु स्वास्थ्य सेवाओं में गुणवत्ता लाएं: डॉ. चौधरी

आशा सहयोगिनियां मातृ एवं शिशु स्वास्थ्य सेवाओं में गुणवत्ता लाएं: डॉ. चौधरीआशा सहयोगिनियां मातृ एवं शिशु स्वास्थ्य सेवाओं में गुणवत्ता लाएं: डॉ. चौधरी

By: Deepak Vyas

Published: 13 Sep 2021, 07:26 PM IST

जैसलमेर. जिला प्रशासन के निर्देशानुसार चिकित्सा, स्वास्थ्य सेवाओं में गुणावत्तापूर्ण वृध्दि लाने व एएए के सुदृढ़ीकरण के लिए आशा सहयोगिनियों की एक दिवसीय कार्यशाला का आयोजन स्वास्थ्य भवन के सभागार में रविवार को मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. कमलेश चौधरी की अध्यक्षता में किया गया। डॉ. चौधरी ने कार्यशाला में बताया कि राज संगम कार्यक्रम में आशा सहयोगनी, एएननएम एवं आंगनवाड़ी कार्यकर्ता आपसी समन्वय रखते हुए समुदाय में बेहतर मातृ एवं शिशु स्वास्थ्य सेवाएं देते हुए 12 सप्ताह के भीतर एएनसी संस्थागत प्रसव एवं टीकाकरण से किसी भी गर्भवती महिला एंव शिशु को वंचित नही रहने दें। डॉ. चौधरी ने मातृ एवं शिशु स्वास्थ्य सेवाओं में बेहतरीन प्रगति लाने में उपयोग आने वाले चिकित्सीय उपकरण स्टेडियोंमीटर, इन्फेन्टोमीटर, थर्मामीटर, सॉल्टर मशीन, एआरआइ टाईमर को भी मौके पर ही आशा सहयोगिनियों को सुपुर्द किए गए।
कार्यशाला में उप मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी स्वा. डॉ. एमडी सोनी ने र मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना के बारे में विस्तार से जानकारी दी। सम के खण्ड मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. राजेन्द्र पालीवाल ने कोविड.19 टीकाकरण एवं कोविड की सम्भांवित तीसरी लहर के बारे में अवगत कराया। जिला कार्यक्रम प्रबंधक अजयसिंह कड़वासरा ने राष्ट्रीय टेली कन्सलटेशन सेवा ई.संजीवनी ओपीडी मोबाइल एप के बारे में जानकारी दी। जिला समन्वयक आशा कार्यक्रम देवराज ऐहम्पा ने राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के तहत आशा कार्यक्रम अन्तर्गत आशा सहयोगिनियों की ओर से सम्पादित स्वास्थ्य गतिविधियों में प्रोत्साहन की बिन्दुवार एवं संस्थानवार पॉवर पोइंट प्रजेटेशन के माध्यम में समीक्षा की।

Deepak Vyas Bureau Incharge
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned