scriptBhadwa Mela: After a few days the fair started, but the back of the ru | Bhadwa Mela: चंद दिन बाद मेला शुरू, लेकिन टूट रही नियमों की कमर | Patrika News

Bhadwa Mela: चंद दिन बाद मेला शुरू, लेकिन टूट रही नियमों की कमर

- ओवरलोड वाहनों में बैठकर आ रहे दर्शनार्थी, सैंकड़ों किमी से बिना हेलमेट भी पहुंच रहे श्रद्धालु

जैसलमेर

Published: July 27, 2022 08:17:52 pm

रामदेवरा. लोकदेवता बाबा रामदेव का मेला शुरू होने से पूर्व ही श्रद्धालुओं की आवक शुरू हो चुकी है। प्रतिदिन बड़ी संख्या में श्रद्धालु रामदेवरा पहुंचकर बाबा रामदेव की समाधि के दर्शन कर रहे है। रामदेवरा पहुंच रहे अधिकांश श्रद्धालु वाहनों में ओवरलोड होकर यात्रा कर रहे है। वाहनों के संचालक भी क्षमता से अधिक सवारियां बिठाकर लोगों की जान जोखिम में डाल रहे है। यही नहीं गांव में प्रतिदिन मालवाहक वाहनों में भी यात्रियों के सवार होकर पहुंचने के नजारे खुलेआम देखने को मिल रहे है, जिन्हें रोकने के लिए कोई कार्रवाई नहीं की जा रही है। गौरतलब है कि बाबा रामदेव के अंतरप्रांतीय मेले में 30 से 35 लाख श्रद्धालु यहां पहुंचेंगे। ऐसे में बड़ी संख्या में बसों व अन्य वाहनों का संचालन होगा। कुछ रुपए के लालच के चलते वाहनों के संचालक क्षमता से अधिक सवारियों को बिठाकर यात्रा करवा रहे है। यह सिलसिला शुरू हो चुका है। बावजूद इसके जिम्मेदार कोई ध्यान नहीं दे रहे है।
मालवाहक वाहनों की भी सवारियां
देश के विभिन्न राज्यों से आने वाले श्रद्धालु अपने गली मोहल्ले के पड़ौसियों व रिश्तेदारों के साथ सस्ते सफर की आस में मालवाहक वाहन लेकर यहां पहुंचते है। मालवाहक वाहनों में दरियां, बिछौने लगाकर श्रद्धालु आरामदायक सफर समझते है, लेकिन खुलेआम यातायात नियमों की अवहेलना हो रही है। जिन्हें रोकने की जहमत कोई नहीं उठा रहा है। जिसके कारण प्रतिवर्ष मेले के दौरान हादसे भी होते है।
ओवरलोड का सिलसिला बदस्तूर जारी
मेला आगामी 29 अगस्त को शुरू होगा। इससे पूर्व अभी से ही श्रद्धालुओं की आवक शुरू हो चुकी है तथा प्रतिदिन बड़ी संख्या में श्रद्धालु वाहनों में ओवरलोड सवार होकर यहां पहुंच रहे है। रास्ते में परिवहन व पुलिस विभाग की कई चौकियां लगी हुई है, लेकिन ऐसे वाहनों को कोई रोकटोक नहीं है। जबकि बैठकों के दौरान जिम्मेदार ऐसे वाहनों को रोकने के बड़े-बड़े दावे जरूर करते है।
मोटरसाइकिल पर भी ओवरलोड, नहीं होती कार्रवाई
बीते एक दशक पर नजर डालें तो हाड़ौती, मेवाड़, भरतपुर, उदयपुर आदि क्षेत्रों से प्रतिवर्ष हजारों युवा श्रद्धालुओं के मोटरसाइकिलों पर आने का क्रेज बढ़ता जा रहा है। एक मोटरसाइकिल पर तीन से चार, यहां तक की कई मोटरसाइकिलों पर छह-सात सवारियों को बिठाकर यात्रा की जाती है। यही नहीं मोटरसाइकिल यातायात नियमों की पालना करना दूर हेलमेट भी नहीं लगाते है। ऐसे में प्रतिवर्ष मोटरसाइकिलों से बड़ी संख्या में हादसे भी होते है। बावजूद इसके इनके विरुद्ध कोई कार्रवाई नहीं की जा रही है और जिम्मेदारों के प्रयास भी बौने नजर आते है।
फैक्ट फाइल:-
- 2000 वाहन मेले में आते है प्रतिदिन रामदेवरा
- 800 बसें व मालवाहक वाहन ओवरलोड होकर करवाते है सफर
- 200 से अधिक ट्रैक्टर पहुंचते हैै प्रतिदिन
Bhadwa Mela: चंद दिन बाद मेला शुरू, लेकिन टूट रही नियमों की कमर
Bhadwa Mela: चंद दिन बाद मेला शुरू, लेकिन टूट रही नियमों की कमर

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

मुंबई पुलिस की बड़ी कार्रवाई, गुजरात के भरूच में पकड़ी ‘नशे’ की फैक्ट्री, 1026 करोड़ के ड्रग्स के साथ 7 गिरफ्तारभूस्खलन से हिमाचल में 100 से अधिक सड़कें ठप, चार दिन भारी बारिश का अलर्टबिहारः मंत्रियों में विभागों का बंटवारा, गृह मंत्रालय नीतीश के पास, तेजस्वी के पास 4 विभाग, तेज प्रताप का घटा कद, देखें ListVideo मध्यप्रदेश में बाढ़ के हालात, सात जिलों में राहत-बचाव का काम शुरू, लोगों को घरों से निकालाममता बनर्जी के ट्विटर प्रोफाइल में गायब जवाहर लाल नेहरू की तस्वीर, बरसी कांग्रेसMaharashtra: खाने को लेकर कैटरिंग मैनेजर पर भड़के शिवसेना MLA संतोष बांगर, कर्मचारी को जड़ दिए थप्पड़कश्मीरी पंडित की हत्या मामले में सामने आई मनोज सिन्हा, महबूबा मुफ्ती व उमर अब्दुल्ला की प्रतिक्रिया, जानिए क्या कहाराजस्थान के अलवर जिले में मॉब लिंचिंग, बेरहमी से पिटाई के बाद शख्स की मौत
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.