केन्द्रीय अध्ययन दल ने लिया सूखे की स्थिति का जायजा,देखें वीडियो...

‘फसलों का तो शत प्रतिशत खराबा हो गया, चारा, पानी व रोजगार भी नहीं है’
-ग्रामीणों ने चारे एवं पानी की समस्या से अवगत कराया

By: Deepak Vyas

Published: 18 Dec 2018, 01:32 PM IST

Jaisalmer, Jaisalmer, Rajasthan, India

जैसलमेर. अंतर मंत्रालयिक केन्द्रीय अध्ययन दल ने सोमवार को जैसलमेर जिले के विभिन्न गांवों का दौरा कर सूखे से उत्पन्न स्थिति का जायजा लिया। सांगड़ गांव में उप सरपंच काछबदान के साथ ही कोडा में अखेदान, रेंवतदान तथा रामा में देश्लदान, रिडमलदान एवं जुगतीदान ने बताया कि इन गांवों में बारिश के अभाव में बोई गई फसल का पूर्ण रूप से खराबा हो गया है, वहीं पशुधन के लिए चारा भी नहीं होने से पशुधन का संरक्षण किया जाना बहुत ही मुश्किल है। उन्होंने केन्द्रीय अध्ययन दल से जिले में अभाव की स्थिति को देखते हुए फसल खराबे का मुआवजा दिलाने के साथ ही पशु शिविर खोलने, अनुदानित दर पर चारा उपलब्ध कराने की मांग रखी वहीं गांव में पानी की समस्या का समाधान कराने के लिए टैंकरों से पेयजल परिवहन करने की भी मांग की।
ग्रामीणों के साथ बैठक, ली अकाल की जानकारी
केन्द्रीय अध्ययन दल ने ग्रामीणों के साथ बैठक कर उनसे अकाल की स्थिति की जानकारी ली वहीं उनके रोजगार के बारे में पूछा। ग्रामीणों ने बताया कि उनका मूल रोजगार पषुधन एवं कृषि पर ही आधारित है इसलिए उन्हें अब इस अकाल की स्थिति में सरकार के सहायता की आवश्यकता है। केन्द्रीय अध्ययन दल ने महानरेगा कार्यो व प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना, क्रॉप कटिंग, कृषि अनुदान के बारे में जानकारी ली। जिला कलक्टर ओम कसेरा ने जैसलमेर जिले में चारे, पानी की उपलब्धता, फसलों में खराबे, प्रस्तावित कार्य योजना के बारे में विस्तार से जानकारी दी। उन्होंने पेयजल परिवहन एवं पशु संरक्षण के लिए चारे की डिमांड के बारे में बताया। इस दौरान उपखण्ड अधिकारी फतेहगढ सुश्री सुमन सोनल, तहसीलदार जैसलमेर वीरेन्द्रसिंह, तहसीलदार फतेहगढ़ निर्भाराम भी साथ में थे। केन्द्रीय अध्ययन दल ने सांगड़ में मामडियाई गौशाला का निरीक्षण किया।
दल में शामिल
दल में शामिल कृषि, सहकारिता एवं किसान कल्याण मंत्रालय के संयुक्त सचिव दिनेश कुमार, शासन सचिव आपदा प्रबंधन एवं सहायता हेमन्त गेरा, जिला कलक्टर ओम कसेरा, नीति आयोग के कृषि निदेशक शिव सिंह मीणा, कृषि, सहकारिता एवं किसान कल्याण मंत्रालय के पशुपालन विभाग की असिसटेंट कमिश्नर सुलेखा एसएल एवं ने जैसलमेर जिले के सांगड़, कोडा व रामा गांवों का दौरा कर सूखे की स्थिति का जायजा लिया।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned