JAISALMER NEWS- आस्था के वसीभूत मुख्यमंत्री ने इस रास्ते पर करवाए करोड़ों खर्च फिर भी...

तीन वर्ष बाद भी मार्ग अधूरा, कब होगा पूरा ?

By: jitendra changani

Published: 20 May 2018, 10:54 PM IST

पदयात्री मार्गों पर लग गई झाडिय़ां
पोकरण(जैसलमेर). पदयात्रियों के लिए बनाए गए मार्ग पर झाडिय़ां लगने लगी है। ऐसे में मेले से पूर्व ही लाखों रुपए की धनराशि खर्च कर बनाया जा रहा मार्ग तैयार होने व पदयात्रियों के उपयोग से पूर्व ही अनुपयोगी होने लगा है। गौरतलब है कि गत दो वर्ष पूर्व मुख्यमंत्री की ओर से जोधपुर , बाड़मेर व बीकानेर से रामदेवरा तक पदयात्री मार्गों का निर्माण करवाने की घोषणा की गई थी। जिसके अंतर्गत लाखों रुपए की धनराशि खर्च कर डामर सडक़ोंं के किनारे कच्चे पदयात्री मार्गों का निर्माण किया गया। इन मार्गों के दोनों किनारों पर सीमेंट के कर्वस्टोन लगाकर बीच में मुलायम बालू रेत डालने की योजना तैयार की गई थी, ताकि पदयात्री डामर सडक़ पर न चलकर इस कच्चे पदमार्ग पर चल सके। जिससे मेले के दौरान होने वाली दुर्घटनाओं से बचा जा सके।
पूरा नहीं हो पाया कार्य
पदयात्रियों के लिए बनाए जा रहे इस कच्चे पदयात्री मार्ग में रेत डालकर उसकी कुटाई नहीं की गई है। जबकि इस मार्ग पर बबूल व आक की झाडिय़ां लगने लगी है। पदयात्रियों के लिए कच्चे मार्ग का निर्माण गत तीन वर्ष पूर्व शुरू किया गया था, जो अब तक पूर्ण नहीं किया गया है। गौरतलब है कि मुख्यमंत्री की ओर से भी रामदेवरा प्रवास के दौरान पदयात्री मार्ग की जानकारी लेते हुए अधिकारियों को लताड़ लगाई गई थी। बावजूद इसके अभी तक मार्ग न तो पूरा हो पाया है, न ही पदयात्रियों के चलने लायक है।

Jaisalmer patrika
IMAGE CREDIT: patrika

निर्माण से पूर्व ही बिखरने लगे कर्वस्टोन
पदयात्रियों के लिए निर्माण करवाए जा रहे कच्चे मार्ग के दोनों किनारों पर सीमेंट के कर्वस्टोन लगाए गए है। पोकरण-जोधपुर व पोकरण-फलसूण्ड मार्ग पर कर्वस्टोन लगाने के कार्य में गुणवत्ता पर ध्यान नहीं दिया गया है। यहां लगाए गए सीमेंट के कर्वस्टोन व उसके बीच-बीच में लगाए गए पिल्लर निर्माण के कुछ दिन बाद ही बिखरने लगे है। कई जगह कर्वस्टोन टूट चुके है, तो कई जगह अभी तक कर्वस्टोन लगाने का कार्य किया ही नहीं गया है। इसके अलावा फलसूण्ड रोड पर चल रहे पोकरण-फलसूण्ड पेयजल लिफ्ट परियोजना के कार्य के दौरान भी पदयात्री मार्ग को नुकसान पहुंचा है। गौरतलब है कि तीन माह बाद रामदेवरा में ***** मेला शुरू होगा, लेकिन एक माह पूर्व ही पदयात्रियों के आने का सिलसिला शुरू हो जाएगा। ऐसे में मेले के दौरान आने वाले पदयात्रियों के आने का सिलसिला डेढ माह बाद शुरू हो जाएगा। लाखों श्रद्धालु पदयात्रा कर रामदेवरा आएंगे।

मरम्मत को नहीं है बजट
क्षेत्र में अधिकांश जगह पदयात्री मार्ग का निर्माण पूर्ण हो चुका है। फलसूण्ड रोड सहित कुछ जगहों पर कार्य अधूरा पड़ा है। वह भी शीघ्र पूरा किया जाएगा। दो वर्ष पूर्व पूर्ण किए गए पदयात्री मार्ग पर झाडिय़ों की कटाई व मरम्मत कार्य के लिए अब तक कोई बजट आवंटित नहीं किया गया है, न ही मार्ग के प्रतिवर्ष रख रखाव को लेकर कोई दिशा निर्देश जारी किए गए है।
-ओमप्रकाश चौधरी, अधिशासी अभियंता सार्वजनिक निर्माण विभाग, पोकरण।

Show More
jitendra changani Desk/Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned