नेपाल पुलिस के माध्यम से परिजनों को सुपुर्द किया बालक

नेपाल पुलिस के माध्यम से परिजनों को सुपुर्द किया बालक

By: Deepak Vyas

Published: 13 Sep 2021, 07:18 PM IST

जैसलमेर. रेलवे स्टेशन से गुमसुुदा स्थिति में मिले बालक का मेडिकल करवाकर देखरेख एवं संरक्षण के लिए बाल कल्याण समिति के समक्ष प्रस्तुत किया गया था। चाइल्ड लाइन काउंसलर अनुराधा शर्मा तथा राजकीय संप्रेक्षण एवं किशोर गृह काउंसलर स्नेहा केवलिया की ओर से बालक की काउंसलिंग की गई। उक्त गुमसुदा बालक की काउंसलिंग के दौरान जानकारी मिली थी कि बालक अपनी सौतेली माता के अत्याचार से परेशान होकर नेपाल से जैसलमेर पहुंचा था। बालक को बाल कल्याण समिति की ओर से अस्थायी आश्रय के लिए राजकीय संप्रेक्षण एवं किशोर गृह में प्रवेशित करवाया गया था। समन्वयक - रामगोपाल बेनीवाल ने बताया कि उक्त बालक पिछले 3 महीने से राजकीय संप्रेक्षण एवं किशोर गृह में प्रवेशित था। बाल कल्याण समिति, जिला बाल संरक्षण इकाई तथा चाइल्ड लाइन-1098 के संयुक्त प्रयासों से बाल कल्याण समिति अध्यक्ष - अमीन खान की ओर से प्रसंज्ञान लेते हुए बालक के परिजनों का नेपाल में पता लगाया गया। बाल कल्याण समिति की ओर से बालक की देखरेख एवं संरक्षण की आवष्यकता को ध्यान में रखते हुए बालक को चाइल्ड लाइन सदस्य -अजय व्यास एवं जैसलमेर पुलिस की सुरक्षा के साथ नेपाल में भेजने के लिए 3 सितंबर को आदेश किए गए। चाइल्ड लाइन 1098 सदस्य एवं पुलिस अधीक्षक कार्यालय, जैसलमेर पुलिस के माध्यम से बालक को नेपाल पुलिस को सुपुर्द किया गया और नेपाल पुलिस के माध्यम सेे बालक को परिजन को सुपुर्द किया गया।

Deepak Vyas Bureau Incharge
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned