दिनभर बना रहा असमंजस, शाम को रामदेवरा मंदिर खोलने का लिया निर्णय

- प्रशासन व समाधि समिति के बीच चली कई दौर की वार्ता

By: Deepak Vyas

Published: 07 Sep 2020, 09:16 AM IST

पोकरण/रामदेवरा. पूरे विश्व में कोरोना संक्रमण की महामारी के कारण दर्शनों के लिए बंद किए गए मंदिरों को अब खोलने का दौर शुरू हो रहा है। इसी के अंतर्गत प्रदेश के विख्यात मंदिरों में शुमार भगवान कृष्ण के कलयुगी अवतार माने जाने वाले लोकदेवता बाबा रामदेव की समाधि पर स्थित मंदिर को भी खोलने की तैयारी की जा चुकी है। सोमवार को अलसुबह समाधि पर पंचामृत से अभिषेक किया जाएगा तथा आरती कर मंदिर को श्रद्धालुओं के दर्शनार्थ खोला जाएगा। जिसको लेकर प्रशासन, पुलिस व समाधि समिति की ओर से सभी तैयारियों को अंतिम रूप दिया जा चुका है। गौरतलब है कि कोरोना संक्रमण की महामारी के कारण गत मार्च माह के दूसरे पखवाड़े की शुरुआत के साथ बाबा रामदेव मंदिर को दर्शनों के लिए बंद कर दिया गया था। हालांकि मंदिर के बाहर लगी एलईडी स्क्रीन से दर्शन करवाए जा रहे थे, लेकिन ***** माह में श्रद्धालुओं की आवक को देखते हुए एलईडी स्क्रीन को भी बंद कर दिया गया था। ऐसे में गत दो माह से दर्शन व्यवस्था पूरी तरह से बंद थी। अब मंदिर खुलने के समाचार के साथ श्रद्धालुओं में उत्साह नजर आ रहा है।
दिनभर चला बैठकों का दौर
मंदिर को दर्शनों के लिए खोलने के लिए रविवार को दिनभर बैठकों का दौर चला। उपखंड अधिकारी अजय अमरावत, तहसीलदार बंटी राजपूत सहित अन्य अधिकारी रामदेवरा पहुंचे तथा मंदिर के कार्यालय में बैठक आयोजित की गई। समाधि समिति की ओर से अध्यक्ष गादीपति राव भोमसिंह तंवर, सरपंच समंदरसिंह तंवर सहित अन्य पदाधिकारी उपस्थित रहे। दिनभर में अलग-अलग दौर में बातचीत की गई तथा जिला कलक्टर से दूरभाष पर संपर्क साधा गया। उनकी स्वीकृति के बाद मंदिर को खोलने की सहमति बनी।
नियमों की होगी पालना
जिला प्रशासन की ओर से कोविड-19 के तहत समाधि स्थल खोलने के लिए जारी की गई गाइडलाइन की पालना करनी आवश्यक होगी। उसी पालना के अनुरूप समाधि समिति की ओर से सभी श्रद्धालुओं को मंदिर में प्रवेश दिया जाएगा। इस दौरान मास्क लगाना अनिवार्य होगा तथा सोशल डिस्टेंसिंग की पालना की जाएगी। हाथ धोने के लिए सैनेटाइजर की व्यवस्था रहेगी।
अभिषेक व आरती के साथ खुलेगा मंदिर
बैठक में लिए गए निर्णय के अनुसार सोमवार को अलसुबह चार बजे समाधि पर पंचामृत से अभिषेक किया जाएगा। इसके बाद विशेष पूजा-अर्चना व आरती की जाएगी। आरती के बाद मंदिर को श्रद्धालुओं के लिए खोला जाएगा। कोविड-19 के नियमों की पालना करते हुए श्रद्धालुओं को मंदिर में प्रवेश दिया जाएगा और अन्य द्वार से निकासी की जाएगी। नियमों की पालना के साथ श्रद्धालुओं को दर्शन करवाने की व्यवस्था के लिए पुख्ता इंतजाम किए गए और सभी तैयारियों को अंतिम रूप दे दिया गया है।
प्रशासन को करेंगे सहयेाग
प्रशासन की ओर से समाधि समिति को जो निर्देश दिए गए है, उनकी पालना कर पूर्ण सहयोग किया जाएगा। कोविड-19 से बचाव के लिए प्रशासन ने संसाधन भी उपलब्ध करवाए है। नियमों के अनुसार ही श्रद्धालुओं को प्रवेश देंगे।
गादीपति राव भोमसिंह तंवर, अध्यक्ष बाबा रामदेव समाधि समिति, रामदेवरा।
नियमों की पालना पर दी गई है सहमति
जिला प्रशासन की ओर से जारी किए गए दिशा निर्देशों से समाधि समिति को अवगत करवा दिया गया है। नियमों की पालना की सहमति पर ही मंदिर खोलने की स्वीकृति दी गई है। कोरोना से बचाव के लिए सभी नियमों की पालना करना अनिवार्य होगा।
अजय अमरावत, उपखंड अधिकारी, पोकरण।

Deepak Vyas Bureau Incharge
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned