फकीर परिवार की बगावत से बिगड़े कांग्रेस के समीकरण?

- मतदान के दौरान नजर आई सक्रियता
- गाजी फकीर भी उतरे मैदान में

By: Deepak Vyas

Published: 02 Dec 2020, 12:01 PM IST

जैसलमेर. तीसरे चरण के चुनाव विशेषकर जैसलमेर पंचायत समिति क्षेत्र में मंगलवार को हुए मतदान के दौरान कांग्रेस की टिकट नहीं दिए जाने से नाराज फकीर परिवार की बगावत का व्यापक असर चुनावी रण में साफ देखने को मिला है। इस समिति में सिंधी मुस्लिमों के धर्मगुरु गाजी फकीर के दो पुत्र और एक पुत्रवधु समिति वार्डों में निर्दलीय के तौर पर चुनाव लड़े हैं। ये सभी सदस्य उनके प्रभाव वाले बासनपीर, भागू का गांव, भू में चुनाव लड़े। इन सभी वार्डों में मुस्लिम बहुसंख्यक हंै और अधिकांश मतदाता फकीर परिवार के सदस्यों के पक्ष में एकतरफा रुझान दिखा रहे थे। गाजी फकीर के एक अन्य पुत्र पूर्व प्रधान अमरदीन फकीर सम समिति के वार्ड नं. 7 से निर्दलीय चुनाव लड़ रहे हैं। फकीर परिवार की बगावत के चलते जिला परिषद के वार्ड नं. 7 जहां विधायक रूपाराम मेघवाल के पुत्र हरीश धनदेव कांग्रेस प्रत्याशी हैं, त्रिकोणीय संघर्ष में उलझ गए हैं। इस हमीरा ब्लॉक में हरीश को भाजपा के बालाराम के साथ फकीर समर्थित निर्दलीय किशोर पूनड़ ने कड़े मुकाबले में फंसा दिया है। जिसका परिणाम कुछ भी हो सकता है। परिषद के वार्ड नं. 8 चांधन में भी इस परिवार की नाराजगी का नुकसान कांग्रेस को उठाना पड़ सकता है।
जमात के बीच रहा फकीर परिवार
मंगलवार को मतदान प्रक्रिया के दौरान फकीर परिवार के सदस्य अपने सघन समर्थक मतों वाले क्षेत्रों में पूरे तौर पर सक्रिय नजर आए। वयोवृद्ध गाजी फकीर बासनपीर में मौजूद थे। वोटिंग का जिम्मा पुत्र पीराणे फकीर ने संभाला हुआ था। भागू का गांव में पूर्व जिला प्रमुख अब्दुल्ला फकीर निगरानी रखे हुए थे। पूर्व प्रधान अमरदीन ने भू का मोर्चा संभाला तो अन्य सदस्य क्षेत्र में दौड़धूप कर रहे थे। अमरदीन ने दावा किया कि परिवार के सदस्यों के साथ समर्थित प्रत्याशी इन चुनावों में जीत रहे हैं। उन्होंने कहा कि जनसमर्थन उनके परिवार के साथ है। भागू का गांव में हरीश धनदेव भी मौजूद थे। उन्होंने कहा कि अपनी तरफ से कांग्रेस को विजयी बनाने में कोई कमी नहीं रखी है। ऐसे ही चांधन क्षेत्र में कांग्रेस प्रत्याशी लखसिंह ने दावा किया वे स्वयं समिति ब्लॉक तथा उनके परिवार के दो सदस्य जिला परिषद व समिति ब्लॉक में चुनाव जीतेंगे। देवीकोट में भाजपा प्रत्याशी मनोहरसिंह अड़बाला के पुत्र और जोधपुर विवि के पूर्व अध्यक्ष कुणाल सिंह ने पिता की जीत का दावा किया। उन्होंने कहा कि सभी वर्गों का समर्थन मिल रहा है।

Deepak Vyas Bureau Incharge
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned