Jaislamer politics- रस्म अदायगी रहा कांग्रेस का धरना, पौन घंटे में हुआ पूरा

कांग्रेस ने किसानों के समर्थन में किया धरना-प्रदर्शन, भेजा ज्ञापन -बमुश्किल पौन घंटा ही चला कांग्रेस का विरोध -संगठन की आपसी फूट सामने आई

By: jitendra changani

Published: 14 Jun 2017, 11:02 PM IST

जैसलमेर. जिला कांग्रेस कमेटी ने किसानों की समस्याओ को लेकर बुधवार को कलेक्ट्रेट के सामने धरना दिया और नारेबाजी कर केन्द्र व राजस्थान की भाजपा सरकार के खिलाफ नारेबाजी की। बाद में कांग्रेस नेताओं ने जिला कलक्टर को मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौंपा। धरना प्रदर्षन प्रदेश महासचिव एवं जैसलमेर प्रभारी पुखराज पाराशर के नेतृत्व में किया गया। कांग्रेस ने विरोध प्रदर्षन की कार्रवाई इतनी तुरत-फुरत में की कि देखने वाले भी हैरान रह गए। पौन घंटा की अवधि में ही सारा कार्यक्रम सिमट गया और ज्ञापन देने के बाद नेता तथा कार्यकर्ता अपने-अपने वाहनों पर सवार होकर गंतव्य के लिए रवाना हो गए।
ज्ञापन में यह रखी मांगें
जिला प्रवक्ता शंकरलाल माली ने बताया कि मुख्यमंत्री के नाम दिए ज्ञापन में प्रदेश के किसानों के कर्ज माफ करने, किसानों को लागत का 50 प्रतिशत लाभंाश देने, किसानों की फसल खरीद न्यूनतम समर्थन मूल्य पर करने के साथ ही उचित बोनस देने, दूध पर पशुपालकों को पर्याप्त सब्सिडी दिलाने की मांग की। इस मौके पर पाराशर सहित जिला प्रमुख अंजना मेघवाल, पूर्व विधायक गोवद्र्धन कल्ला और मुल्तानाराम बारूपाल, प्रदेश सचिव रूपाराम धणदे, जनकसिंह भाटी, राणीदान चौधरी, दिनेशपालसिंह भाटी, गाजी खां, सुमार खां, पार्षद अरविन्द व्यास, पंचायत समिति सदस्य राधादेवी माली, विकास व्यास, उम्मेद आचार्य, राधेश्याम कल्ला, कमलेश छंगाणी, देवकाराम माली, सलीम छत्रेल आदि कार्यकर्ता उपस्थित थे। 
रस्म अदायगी ज्यादा 
कांग्रेस का किसानों के समर्थन में किया गया विरोध प्रदर्शन रस्मी ही साबित हुआ। सुबह 11 बजे के निर्धारित समय पर नेता और कार्यकर्ता जुटने लगे। थोड़ी देर तक आपसी विचार विमर्श हुआ। बाद में प्रदेश स्तर से भिजवाए गए ज्ञापन को लेकर प्रमुख नेता और कार्यकर्ता कलेक्ट्रेट गए। इस दौरान कलेक्ट्रेट पर आवष्यक पुलिस बंदोबस्त किया गया। कलक्टर को ज्ञापन सौंपने के बाद सभी लोग तुरंत कलेक्ट्रेट से रवाना हो गए और धरने के लिए लगाया गया तम्बू समेटने की कार्रवाई प्रारंभ हो गई। संगठन चुनावों के लिए चल रही रस्सा-कसी की छाया बुधवार के विरोध प्रदर्शन में साफ नजर आया। फकीर परिवार के सदस्य नजर नहीं आए। कार्यकर्ताओं की तादाद भी खासी कम रही।
Show More
jitendra changani Desk/Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned