छलांगें मारने लगा कोरोना संक्रमण, अब सात दिन में लग रहे सैकड़े

- नए ठिकानों तक होने लगी कोविड-19 की पहुंच

By: Deepak Vyas

Published: 18 Sep 2020, 02:19 PM IST

जैसलमेर. जैसलमेर जिले में कोरोना संक्रमण की रफ्तार बेतहाशा बढऩे लगी है। यह विश्वव्यापी संक्रमण अब रेतीले धोरों वाले जिले में भी छलांगें मारने लगा है। गुरुवार को जिले में एक साथ 34 जने कोरोना पॉजिटिव पाए गए। जिनमें जैसलमेर मुख्यालय और ग्रामीण क्षेत्रों में 15-15 तथा पोकरण क्षेत्र में चार मामले पाए गए। इनमें पोकरण उपखंड अधिकारी सम्मिलित है। इसके साथ जिले में कुल पॉजिटिव का आंकड़ा सात सौ के पार पहुंच गया है। जिले में 5 अप्रेल को पोकरण में पहला पॉजिटिव पाया गया था। तब 100 मामले 50 दिनों में पूरे हुए थे और अब इसकी गति इतनी बढ़ गई है कि सात दिन में ही सौ नए केस जुड़ते चले जा रहे हैं। संक्रमण की तेज गति ने जिम्मेदारों से लेकर आमजन की चिंता बढ़ा दी है। इसके बावजूद अनेक लोगों का अंदाज लापरवाही वाला बना हुआ है।
आम से खास तक
जैसलमेर में गुरुवार को नगरपरिषद आयुक्त फतेहसिंह मीणा की रिपोर्ट पॉजिटिव आई वहीं डिस्कॉम का सहायक अभियंता और केंद्रीय कारागृह में प्रहरी भी संक्रमित पाए गए हैं। इसके अलावा जैसलमेर विधायक के पैतृक गांव चेलक में उनके परिवार के आधा दर्जन सदस्यों की रिपोर्ट भी पॉजिटिव आई है। गौरतलब है कि विधायक रूपाराम, उनकी पत्नी और पुत्री आदि पहले ही संक्रमित पाए जा चुके हैं। बुधवार को 90 जनों की रिपोर्ट पेंडिंग रखी गई थी। उनमें से गुरुवार सुबह 30 जने पॉजिटिव आए हैं। इनमें शहर की गांधी कॉलोनी और थानवी पाड़ा में दो-दो, गोयदानी पाडा, अम्बेडकर कॉलोनी, अचलवंशी कॉलोनी, जेएनवी, इन्दिरा कॉलोनी, कुम्हार पाड़ा, बिसानी पाड़ा, गीता आश्रम के पास, आचार्य पाड़ा, नगरपरिषद व जेल में एक-एक जना संक्रमित पाया गया। ग्रामीण क्षेत्रों में चेलक में छह, रामगढ़, भम्भारा, डेलासर, फतेहगढ़, सत्ता, धोबा, भू, काठोड़ी, लाखासर में एक-एक की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है।
पोकरण में एसडीएम सहित चार पॉजिटिव
पोकरण क्षेत्र में कोरोना का ग्राफ दिनोंदिन बढ़ता जा रहा है। जिससे आमजन में भय है। गुरुवार शाम आई रिपोर्ट में कस्बे के चार जने पॉजिटिव पाए गए हैं। बुधवार को 15 जनों के सैम्पल पेंडिंग रखे गए थे। जिनकी रिपोर्ट गुरुवार को प्राप्त हुई। जिनमें उपखंड अधिकारी सहित चार जने कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं।
ऐसे बढ़ रही रफ्तार
जैसलमेर जिले में कोरोना का आगाज 5 अप्रेल को पोकरण में हुआ। तब लगातार 35 जने तब्लीग जमात के सदस्यों के सम्पर्क में आकर पॉजिटिव हुए थे। बाद में जिले में प्रवासियों के आगमन से संक्रमण के मामले बढ़े। स्थितियां तब तक भी नियंत्रण में थी। पहले सौ मामले 50 दिनों में पूरे हुए तो बाद में नए 100 केसेज 25 तथा 20 दिनों में जुड़े। अब प्रति सात दिन में ही 100 का नया आंकड़ा जुड़ता चला जा रहा है। जिले में हर दूसरे-तीसरे दिन 30-40 नए केसेज के बम फूट रहे हैं। घर-घर में नए संक्रमित पाए जा रहे हैं। वहीं बुखार और कोरोना के लक्षणों वाले मरीजों की तादाद तो कहीं अधिक हो चुकी है।

Deepak Vyas Bureau Incharge
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned