रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने श्रेष्ठ प्रदर्शन करने वाले सैन्य दलों को किया सम्मानित,परमाणु नगरी में किया वाजपेयी को याद

Deepak Vyas

Publish: Aug, 16 2019 03:17:52 PM (IST)

Jaisalmer, Jaisalmer, Rajasthan, India

जैसलमेर. युद्ध के मैदान में अपने बुलंद हौसलों और उत्कट वीरता की बदौलत दुश्मनों पर फतेह हासिल करने वाली भारतीय सेना के जवानों ने पांचवीं अंतरराष्ट्रीय आर्मी स्काउट मास्टर प्रतियोगिता बड़े अंतराल से जीत ली है। भारतीय सेना ने पहली बार इस प्रतियोगिता में भाग लिया और इसकी मेजबानी भी की। सीमांत जैसलमेर सैन्य स्टेशन में गत 6 से 14 अगस्त तक आयोजित हुई इस प्रतियोगिता में एक से एक कठिन प्रतियोगिताओं में भारतीय सेना की टीम ने टीम भावना तथा साहस और दमखम का परिचय दिया। प्रतियोगिता में भारत के अलावा सात अन्य देशों रूस, चीन, उज्बेकिस्तान, कजाकिस्तान, बेलारूस, अर्मेनिया और सूडान सेना की टीमों ने भागीदारी की। उज्बेकिस्तान दूसरे स्थान पर रही। रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने शुक्रवार को जैसलमेर सैन्य स्टेशन में आयोजित समापन समारोह में मुख्य अतिथि के तौर पर शिरकत की और विजेता टीम तथा श्रेष्ठ प्रदर्शन करने वाले खिलाडिय़ों को पुरस्कृत किया। इस अवसर पर थल सेना अध्यक्ष बिपिन रावत और दक्षिणी कमान के लेफ्टिनेंट जनरल एसके सैनी भी मौजूद थे।
सबसे पहले वाजपेयी को श्रद्धांजलि
रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने अपने उद्बोद्धन की शुरुआत में पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी को उनकी पहली पुण्यतिथि पर याद किया। सिंह ने कहा कि वे वाजपेयी को ह्दय की अतल गहराइयों से श्रद्धांजलि अर्पित करते हैं। उन्होंने कहा कि यह उनकी खुशनसीबी है और संयोग भी है कि वे परमाणु परीक्षण वाले पोकरण की सरजमीं से वाजपेयी को याद कर रहे हैं। उन्होंने विजेता भारतीय टीम को अपनी ओर से हार्दिक बधाई देते हुए कहा कि प्रतियोगिता में भाग लेने वाली सभी टीमों ने कड़ी मेहनत, उच्च कोटि की साहसिक भावना का परिचय दिया है। रक्षामंत्री ने भारत के रूस के साथ दशकों पुराने प्रगाढ़ संबंधों को याद किया और चीन का भी जिक्र किया। उन्होंने कहा कि इस तरह की प्रतियोगिता से विभिन्न देशों के सैन्य जवानों को एक दूसरे से काफी कुछ सीखने को मिलता है। उन्होंने उम्मीद जताई कि प्रतियोगिता में भाग लेने आई टीमों ने भारतीय सेना की मेहमाननवाजी का आनंद उठाते हुए यहां की संस्कृति से भी उन्होंने परिचय किया होगा।
एक साल की कड़ी मेहनत से मिली सफलता
विजयी भारतीय सेना ने प्रतियोगिता जीतने पर खुशी का इजहार किया। इस मौके पर पत्रकारों से बातचीत करते हुए टीम की अगुआई करने वाले सीआर चौधरी ने कहा कि इस प्रतियोगिता के लिए टीम के खिलाड़ी पिछले एक साल से कड़ी मेहनत कर रहे थे। इस प्रतियोगिता में पांच स्टेज थे और सभी प्रतिभागी देशों की एक न एक टीम ने उनमें दमखम दिखाया।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned