JAISALMER NEWS- पश्चिमी राजस्थान में भीषण गर्मी के साथ बढ़े पेयजल संकट से ऐसे हो रहे हालात

By: jitendra changani

Published: 19 Apr 2018, 10:20 AM IST

Jaisalmer, Rajasthan, India

Rajasthan patrika

1/2

Jaisalmer photos

जैसलमेर . जिले भर में गर्मी का असर बढऩे के साथ ही पेयजल समस्या भी बढऩे लग गई है। जिले के शहरी व ग्रामीण क्षेत्रों में पेयजल आपूर्ति व्यवस्था सुचारू नहीं होने से लोगों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। जिले के अड़बाला ग्राम पंचायत के शोभ गांव में गत करीब एक पखवाड़े से पेयजल संकट गहराया हुआ है। ग्रामीण हीराराम, तनेराव, दुर्गसिंह, राणसिंह, ज्ञानसिंह, नखतुराम, तणुराम सहित कई लोगों ने सोमवार को जिला कलक्टर को ज्ञापन सौंप गांव में पेयजल समस्या का समाधान करवाने की मांग की। ज्ञापन में उन्होंने बताया कि शोभा गांव में एकमात्र सरकारी ट्यूबवेल है, जो बंद है। ऐसे में भंवरसिंह की ढाणी, जेठमालसिंह की ढाणी, गोरधनसिंह की ढाणी, देवपूरी की ढाणी, सरदाराराम सुथार की ढाणी, कल्याणसिंह की ढाणी सहित कई ढाणियों के बाशिंदों को पेयजल किल्लत का सामना करना पड़ रहा है। गांव में करीब 500 घरों की आबादी व 1000 से अधिक मवेशी भी है। उन्होंने गांव में व्याप्त पेयजल समस्या का समाधान करवाने की मांग की है। इसी प्रकार जिले की रासला ग्राम पंचायत के बाशिंदें भी पेयजल किल्लत का सामना करने को मजबूर है। ग्रामीणों ने जिला कलक्टर को ज्ञापन सौंपकर समस्या का समाधान करवाने की मांग की है। ज्ञापन में बताया कि ग्राम पंचायत के कई गांवों में गत लंबे समय से पेयजल संकट व्याप्त है। गांव में बनी कई जीएलआर में पाइप लाइन कनेक्शन का भी अभाव है, तो कई में जगह-जगह पाइप लाइन क्षतिग्रस्त है। ऐसे में रासला, नया रासला, रामुराम, सोबे खां, अर्जुनराम पिराणे खां, दुर्जनसिंह की ढाणियों, भोपा, गजेसिंह की ढाणी, सांवता, सुथारों की ढाणी, खोखरों की ढाणी, खेड़ेरों की ढाणी, मेहराजोत, लाला, कराड़ा, भीखसर, अचला आदि क्षेत्रों के ग्रामीण प्रभावित हो रहे है।

Show More

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned